मॉब लिंचिंग को आतंकवाद की श्रेणी में लाने का मामला लोकसभा में उठा

नई दिल्ली – मॉब लिंचिंग और हॉनर किलिंग पर कानून बनाने तथा इसके खिलाफ सख्ती से निपटने का मामला शुक्रवार को लोकसभा में उठा और इसे आतंकवाद की श्रेणी में लाने की मांग की गयी। द्रविड़ मुनेत्र कषगम के डी रवि कुमार ने शून्यकाल के दौरान माॅब लिंचिंग का मुद्दा उठाया और इसे आतंकवाद की श्रेणी में लाने की मांग की। उन्होंने कहा कि माॅब लिंचिंग और हॉनर किंलिंग एक गंभीर विषय है। देश की शांति को भंग करने के लिए जानबूझकर हिंसा का सहारा लिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में मॉब लिंचिंग की घटनाओं में इजाफा हुआ है। वर्ष 2016 से अब तक 99 लोगों की मॉब लिंचिंग में हत्या की गयी है। इसके खिलाफ सरकार को सख्त कदम उठाने की जरूरत है।

You might also like