विश्व हिंदू परिषद ने बंद करवाया धार्मिक अनुष्ठान

नेरचौक में धर्मांतरण के शक पर संगठन ने बोला धावा, कुछ किताबें भी कब्जे में ली

नेरचौक -उपमंडल बल्ह में धर्मांतरण की आशंकाओं को लेकर शाम के समय अचानक सनसनी फैल गई। विश्व हिंदू परिषद के सदस्यों ने नेरचौक शहर में चल रहे धर्म प्रचार-प्रसार कार्यक्रम पर सवाल उठाते हुए कार्यक्रम को बंद करवा डाला। उन्होंने उपस्थित लोगों को दोबारा इस तरह के आयोजन न करवाने की चेतावनी तक दे डाली। मौके पर पहुंचे विश्व हिंदू परिषद प्रखंड अध्यक्ष राकेश ठाकुर, मंत्री लहर ठाकुर, सुरेश कुमार, लालचंद, राकेश, राजेश, हरीश, अश्वनी व यशवंत ने आरोप लगाया है कि शहर में एक व्यक्ति द्वारा किराए के कमरे में धर्म से संबंधित प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। उन्हें सूचना मिली थी कि नेरचौक में किराए के कमरे में रह रहे पंजाब निवासी राकेश शर्मा निर्धन लोगों को प्रलोभन देकर धर्म परिवर्तन का कार्य कर रहे हैं। वीएचपी सदस्यों ने कमरे से ईसाई धर्म के प्रचार-प्रसार की कुछ सामग्री भी बरामद की है। उधर, कार्यक्रम का आयोजन करने वाले व्यक्ति का कहना है कि वह पंजाब का रहने वाला है और यहां मार्केटिंग का कार्य करता हैं। रविवार को कमरे में अपने जानने वालों के साथ मिलकर सत्संग कर रहे था, लेकिन विश्व हिंदू परिषद से जुड़े लोगों ने यहां पहुंच कार्यक्रम को बंद करवाया दिया। विश्व हिंदू परिषद के सदस्यों ने चेतावनी दी है कि बल्ह घाटी में इस तरह की गतिविधियों को पनपने नहीं दिया जाएगा। उधर, विश्व हिंदु परिषद के कार्यकर्ताओं का कहना है कि सरकार व पुलिस प्रशासन को क्षेत्र में हो रही ऐसी गतिविधियों पर रोक लगानी चाहिए अन्यथा विश्व हिंदू परिषद अपने स्तर पर ऐसी गतिविधियों पर रोक लगाने के लिए मजबूर होगी।

You might also like