शराब पकड़ने गई एसआईयू टीम पर हमला, विधायक के पीएसओ पीए-ड्राइवर समेत पांच गिरफ्तार

ऊना – ऊना जिला के अंतर्गत पेखूबेला में अवैध शराब पकड़ने गई पुलिस की एसआईयू टीम पर हमला हुआ है, जिसमें ऊना विधायक के पीए, पीएसओ और ड्राइवर भी संलिप्त पाए गए हैं। पुलिस ने विधायक के स्टाफ के तीन लोगों के साथ ही अन्य दो  और व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। हालांकि पुलिस ने इस दौरान 11 पेटी अवैध शराब की भी बरामद की है, लेकिन शराब माफिया के लोग पुलिस टीम पर भारी पड़े हैं। पुलिस ने विधायक की गाड़ी भी कब्जे में ले ली है। वहीं, आगामी कार्रवाई शुरू कर दी गई है। पुलिस के अनुसार सोमवार देर रात पुलिस की एसआईयू टीम क्षेत्र में गश्त पर थी। इस दौरान पेखूबेला के पास एसआईयू टीम ने एक मारुति कार रोकी और चैकिंग लेने पर अवैध शराब पाई गई। इस दौरान कार में सवार इन लोगों ने अन्य लोगों के साथ संपर्क किया, जिसके चलते कुछ ही देर बाद लोगों से भरी दो गाडि़यां मौके पर पहुंच गई, जिसमें एक गाड़ी ऊना विधायक की थी। वहीं, विधायक का पीए, पीएसओ और ड्राइवर भी था। इस दौरान शराब से भरी गाड़ी पकड़ने के बाद पुलिस टीम के दो सदस्यों के साथ जमकर मारपीट हुई। सूचना मिलने पर ऊना पुलिस टीम भी मौके पर पहुंची। एएसपी विनोद धीमान की अगवाई में पुलिस टीम ने शराब माफिया के खिलाफ कार्रवाई की। कुछ लोगों को मौके से गिरफ्तार किया गया। वहीं, कुछ लोग फरार हो गए। वहीं, पुलिस कर्मियों के साथ मारपीट करने वालों में ऊना विधायक के पीएसओ और ड्राइवर को भी पुलिस ने हिरासत में ले लिया। तीनों आरोपियों को एक दिन के रिमांड पर भेजा गया है।

गुप्त सूचना पर हुई कार्रवाई

एक ओर जहां शराब माफिया ने पुलिस टीम के साथ मारपीट की है। वहीं, मौके पर अवैध शराब भी नष्ट करने का प्रयास किया, लेकिन शराब माफिया के यह प्रयास सफल नहीं हो पाए हैं। बता दें कि पुलिस की ओर से सनोली, माजरा, संतोषगढ़ क्षेत्र में अवैध शराब के खिलाफ नशा माफिया पर कड़ी नजर रखी जा रही थी, जिसके चलते पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि अवैध शराब की खेप पहुंचाई जा रही है और पुलिस ने सूचना मिलने पर यह कार्रवाई की, लेकिन इस दौरान जमकर विवाद हुआ। उधर, ऊना विधायक सतपाल रायजादा ने कहा कि उनके पीए और ड्राइवर पीएसओ को घर छोड़ने जा रहे थे, रास्ते में क्या हुआ इसकी उन्हें जानकारी नहीं है।

You might also like