संघ का हौसला बढ़ा, मंसूबे खतरनाक

आरक्षण के मुद्दे पर प्रियंका का वार, तेजस्वी ने भी साधा निशाना

नई दिल्ली – कांग्रेस महासचिव और पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वढेरा का राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) और भाजपा सरकार पर हमला करना जारी है। मंगलवार को भी ट्विटर के जरिए उन्होंने आरक्षण के मुद्दे पर संघ को घेरा और कहा कि आरएसएस के मंसूबे खतरनाक हैं, आरक्षण पर बहस के बहाने ये सामाजिक न्याय पर निशाना साधना चाहते हैं। प्रियंका गांधी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा कि आरएसएस का हौसला बढ़ा हुआ है और मंसूबे खतरनाक हैं, जिस समय भाजपा सरकार एक-एक करके जनपक्षधर कानूनों का गला घोंट रही है उसी समय आरएसएस ने भी लगे हाथ आरक्षण पर बहस करने की बात उठा दी है, बहस तो शब्दों का बहाना है मगर आरएसएस-भाजपा का असली निशाना सामाजिक न्याय है,लेकिन क्या आप ऐसा होने देंगे?’ उधर, प्रियंका गांधी के अलावा राजद नेता और बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने भी मोहन भागवत पर निशाना साधा। उन्होंने ट्विटर पर लिखा कि आरक्षण को लेकर भाजपा-आरएसएस की मंशा ठीक नहीं है। उन्होंने लिखा कि केंद्रीय नौकरियों में आरक्षित वर्गों में 80 फीसदी पद खाली क्यों हैं? कोई कुलपति एससी/एसटी/ओबीसी क्यों नहीं है। मोहन भागवत के इसी बयान के बाद एक बार फिर विवाद हुआ था और इसे तीन राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों से जोड़ा गया था, क्योंकि इससे पहले आरक्षण को लेकर मोहन भागवत ने 2015 में बिहार विधानसभा चुनाव से पहले बयान दिया था।

You might also like