सेंट्रल बैंक ऑफ   इंडिया की बैठक

चंडीगढ़ में अधिकारियों ने ग्राहकों को बताई बैंक की योजनाएं

चंडीगढ़ – सेंट्रल बैंक ऑफ  इंडिया के चंडीगढ़ जोनल ऑफिस में बैंक अधिकारियों ने उधारकर्ताओं (बॉरोअर्स) के साथ एक बैठक का आयोजन किया। इस  बैठक की अध्यक्षता चंडीगढ़ क्षेत्र के सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के फील्ड महाप्रबंधक डी डीनायक ने की। बैठक में हरियाणा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश और जम्मू कश्मीर और चंडीगढ़ क्षेत्र के भावी उधारकर्ताओं ने भाग लिया। इसके अलावा बैठक में बैंक के चंडीगढ़ जोन के अंतर्गत सभी क्षेत्रीय प्रमुख भी उपस्थित थे। चंडीगढ़ क्षेत्र के वरिष्ठ क्षेत्रीय प्रबंधक टी एस बालाचंद्रन ने सभी ग्राहकों का स्वागत किया। ग्राहकों के लिए अपने संबोधन के दौरान डी डीनायक, एफजीएम, चंडीगढ़ ने बैंक के वर्तमान कार्यों पर चर्चा की। एफजीएम, चंडीगढ़ ने यह भी बताया कि बैंक उधारकर्ताओं को विशेष रूप से एमएसएमई व् निर्यातकों को कारपोरेट क्रेडिट के तहत प्रमाणित ट्रैक रिकॉर्ड के साथ लाने का इरादा रखता है। बैंक नए एमएसएमई को और सुविधाएं देने की योजना तैयार कर रहे है। बैंक सभी खुदरा उधार योजना में ब्याज दर की प्रतिस्पर्धी दर की पेशकश कर रहा है। बैंक समय के आसपास एक निश्चित रिटर्न के साथ सभी के्रडिट प्रस्तावों के उपयुक्त निपटान के लिए प्रतिबद्ध है। ग्राहकों को परेशानी मुक्त सेवा देने के लिए बैंक नवीनतम तकनीक से लैस है। मैसर्स सतयापैकैगिंगैंड मेसर्स रश्त्रियुंग वर्क्स ने अन्य लोगों के साथ मिलकर बैंक द्वारा उधारकर्ताओं के लिए उठाए गए कदमों की सराहना की और विभिन्न खंडों के तहत पर्याप्त व्यवसाय प्रदान करने का आश्वासन दिया। सुशील जैन, निदेशक मेसर्स वीवर्स ओवरसीज लिमिटेड और सुरेश, पार्टनर मैसर्स महावीर राइस मिल्स ने अपने विदेशी मुद्रा लेनदेन के संबंध में उन्नत सेवा के लिए अनुरोध किया।

You might also like