हिमाचल देखने की तमन्ना

‘फेमिना मिस इंडिया-2019’ सुमन राव का पूरा ध्यान ‘मिस वर्ल्ड-2019 का ताज जीतने पर है और वह इसके लिए भरपूर मेहनत भी कर रही हैं। बावजूद इसके, उन्होंने ‘दिव्य हिमाचल मीडिया ग्रुप’ से विशेष इंटरव्यू के लिए समय निकाला। पेश हैं साक्षात्कार के मुख्य अंश…

विशेष साक्षात्कार

दिव्य हिमाचल : आपके अनुसार मिस इंडिया होने का क्या अर्थ है?

सुमन राव : मेरा मानना है कि ‘मिस इंडिया’ बनकर जनता को प्रेरित किया जा सकता है।

दिव्य हिमाचल : ‘मिस इंडिया’ बनने के बाद आपके जीवन में पहले की अपेक्षा क्या अंतर आया?

सुमन राव : मैं ‘मिस इंडिया’ होने का दायित्व बखूबी समझ सकती हूं और इससे मेरे एटीट्यूड में निश्चित रूप से बदलाव आया है। मैं पहले की अपेक्षा अधिक उत्तरदायी और सजग हो गई हूं, क्योंकि मैं अब ‘मिस वर्ल्ड-2019’ जैसी बड़ी प्रतियोगिता में भारत का

प्रतिनिधित्व करूंगी।

दिव्य हिमाचल : इस सफलता का श्रेय आप किसे देंगी और क्यों?

सुमन राव : यह श्रेय मेरे माता-पिता को जाता है। उन्होंने मुझे मेरे सपने साकार करने की अनुमति दी। साथ ही मिस इंडिया प्रतियोगिता में मुझे संपूर्ण समर्थन दिया, जिस कारण मैं अपना फोक्स बना सकी और अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर पाई।

दिव्य हिमाचल : आप चार्टेड अकाउंटेंट बनने जा रही हैं और उससे पहले मिस इंडिया बन गईं। यह हो कैसे गया?

सुमन राव : सीए की पढ़ाई करते समय ही मुझे मिस इंडिया और इस महत्त्पूर्ण प्लेटफॉर्म के विषय में पता चला। मिस इंडिया के जरिए युवतियों को सशक्त मंच मिलता है। इसके जरिए अपनी राय और विचार व्यक्त कर एक बेहतर समाज बनाने में योगदान दिया जा सकता है।

दिव्य हिमाचल : भविष्य में आप चार्टेड अकाउंटेंट के रूप में काम करना चाहेंगी या ग्लैमर वर्ल्ड आपकी पसंद बनेगा?

सुमन राव : मैं चार्टेड अकाउंटेंट बनूंगी और ग्लैमर वर्ल्ड में भी मेरी रुचि बनी रहेगी।

दिव्य हिमाचल : मिस इंडिया सुमन राव की अगली मंजिल क्या होगी?

सुमन राव : बेशक, मेरी मंजिल है मिस वर्ल्ड, जहां मैं भारत का प्रतिनिधित्व करूंगी। पूरी कोशिश रहेगी कि मिस वर्ल्ड का ताज दोबारा भारत लाऊं।

दिव्य हिमाचल : बदलते भारत में आम लड़कियों के लिए ग्लैमर की दुनिया में कितने अवसर उपलब्ध हैं?

सुमन राव : इस इंडस्ट्री में कई मौके हैं। यहां युवतियां मॉडल, एक्ट्रेस या ब्यूटी क्वीन बनकर सपने साकार कर सकती हैं।

दिव्य हिमाचल : राजस्थान के एक गांव में पैदा होने से लेकर मिस इंडिया बनने तक की अपनी जीवन यात्रा को आप चंद शब्दों में कैसे व्यक्त करेंगी?

सुमन राव : यही कहूंगी कि अगर आपने कुछ बनने की ठान ली है, तो आपको कोई नहीं रोक सकता। फिर चाहे आपका जन्म किसी गांव में हुआ हो या शहर में।

दिव्य हिमाचल : आपका कभी हिमाचल आना हुआ। अगर हां, तो अनुभव कैसा रहा?

सुमन राव : अभी ऐसा मौका नहीं मिला, पर जब भी मिलेगा, हिमाचल का प्राकृतिक सौंदर्य निहारना चाहूंगी।

दिव्य हिमाचल : आपकी तरह मिस इंडिया बनने का सपना देख रही हिमाचली युवतियों को आप क्या संदेश देना चाहेंगी?

सुमन राव : देखिए खुद पर भरोसा रखना सबसे जरूरी है। एक बार खुद पर विश्वास रखें फिर सब आसान हो जाता है। साथ ही पूरी मेहनत भी जरूर करें। इन्हीं गुणों के बल पर मिस इंडिया-2019 में हिमाचल से मेरी फ्रेंड गरिमा वर्मा ने प्रदेश का बेमिसाल प्रतिनिधित्व किया।

You might also like