20 मिनट बीच सड़क फंस गई मरीज की जान

डाडासीबा के तंग बाजार में आड़- तिरछी गाडिय़ां पार्क करना चालकों की आदत बन चुकी है, लेकिन उनकी यह लापरवाही जनता पर भारी पड़ रही है। ताजा मामले के तहत डाडासीबा अस्पताल से एक मरीज को टांडा रैफर किया गया। 108 एंबुलेंस से जब उसे टीएमसी ले जाया जा रहा था, तो सड़क किनारे बेतरतीब ढंग से पार्क गाडिय़ां राह में रोड़ा बन गईं। एंबुलेस चालक लगातार एमर्जेंसी सायरन बजा रहा था, लेकिन कोई भी चालक सामने नहीं आया। करीब 20 मिनट तक एंबुलेंस मरीज को लेकर वहीं खड़ी रही। बाद में लोगों ने कार चालक को ढूढ़ कर गाड़ी साइड में करवाई। अब दुख की बात यह है कि पचास गज दूरी पर पुलिस चौकी है। बावजूद इसके टै्रफिक नियमों का उल्लंघन हो रहा है। खैर मरीज को टीएमसी पहुंचा दिया गया, लेकिन ऐसी लापरवाही किसी की जान पर भी बन सकती है।

You might also like