आचार संहिता लगते ही प्रत्याशी सामने

सतपाल सत्ती बोले, किशन कपूर के नेतृत्व में लड़ेंगे धर्मशाला उपचुनाव

धर्मशाला   –  प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सतपाल सत्ती ने कहा है कि चुनाव आचार संहिता लगते ही धर्मशाला और पच्छाद उपचुनाव के लिए प्रत्याशियों की घोषणा कर दी जाएगी। मुख्यमंत्री के सुर में सुर मिलाते हुए सत्ती ने कहा कि प्रत्याशी जो भी होगा, पार्टी का कार्यकर्ता होगा। कार्यकर्ता अंदर या बाहर का नहीं होता है, वह पार्टी या संगठन में काम करने वाला होता है। उन्होंने कहा कि उपचुनाव सांसद किशन कपूर के नेतृत्व में लड़ा जाएगा। वह विस क्षेत्र के चारों जोन में जाकर कमान संभालेंगे। धर्मशाला में उपचुनाव को लेकर शनिवार को चार जोन की बैठक के बाद पत्रकार वार्ता में उन्होंने कहा कि प्रत्याशियों की घोषणा दिल्ली से होगी। उन्होंने उम्मीद जताई कि 20 सितंबर तक प्रदेश में हरियाणा व महाराष्ट्र के साथ हिमाचल में भी उपचुनाव के लिए कोड ऑफ  कंडक्ट लग जाएगा। उन्होंने कहा कि कपूर ने पिछले 35 वर्षों तक धर्मशाला क्षेत्र का नेतृत्व किया है। इसलिए उनके अनुभव को चुनाव में इस्तेमाल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस बार भाजपा ने चुनाव जीतने को लेकर 20 हजार के पार का नारा दिया है, जिसके तहत दोनों विधानसभा चुनाव में जीत के लिए 20 हजार का टारगेट रखा गया है। धर्मशाला के हर जोन से पार्टी ने पांच हजार की लीड़ दिलाने का लक्ष्य रखा है। विभिन्न नेताओं को तीन-तीन बूथ बांटे गए हैं। प्रदेशभर के नेता व पार्टी पदाधिकारी अलग-अलग बूथों पर अपनी अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करेंगे। सत्ती ने कहा कि चुनाव के दौरान भाजपा मोदी सरकार और प्रदेश की जय राम सरकार की उपलब्धियों को लेकर जनता के बीच जाएगी।

पत्र तो निकलते रहते हैं

भाजपा के भीतर चल रहे शीतयुद्ध पर सत्ती ने कहा कि भाजपा बड़ी पार्टी है और छोटी-मोटी घटनाएं हो जाती हैं। चुनावों के समय इस तरह के कई पत्र बाहर आते हैं, लेकिन इसे सार्वजनिक मंच पर लाना सही नहीं है। इससे पहले भी कांग्रेस और भाजपा के कई नेताओं के खिलाफ  ऐसे पत्र बाहर आए हैं। मामले पर जांच एजेंसी अपना काम कर रही है और जो भी दोषी होगा, उसके खिलाफ मुख्यमंत्री ने कड़ी कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं।

You might also like