कुरांह में कूड़ा फेंकने का जमकर विरोध

मैहला की पांच पंचायतों ने मुखर की आवाज, नगर परिषद को दी आंदोलन की धमकी

मैहला- भरमौर राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर स्थापित कूड़ा संयंत्र में नगर परिषद के वाहनों द्वारा शहर के कूड़े- कर्कट को दोबारा गिराने का आसपास की पांच पंचायतों के लोगों ने कड़ा विरोध किया है। पंचायत के लोगों का कहना है कि अगर विरोध के बावजूद नगर परिषद ने कूड़ा संयंत्र में अवैज्ञानिक तरीके से कूड़ा- कर्कट डाल पर्यावरण को प्रदूषित करने का सिलसिला जारी रखा तो वे सड़कों पर उतर जाएंगे। जानकारी के अनुसार गागला, मैहला, चड़ी व दाड़वी पंचायतों के विरोध और मामला एनजीटी में होने के चलते पिछले कुछ अरसे से नगर परिषद ने कुरांह कूड़ा संयंत्र में कूड़ा- कर्कट गिराना बंद कर दिया था। मगर अब दोबारा से नगर परिषद के वाहन गुपचुप यहां कूड़ा फेंकने लगे हैं। नगर परिषद के इस काम की भनक लगते ही ग्रामीणों में खासी नाराजगी देखने को मिल रही है। मैहला पंचायत के उपप्रधान मनोज जसरोटिया ने बताया कि 21 सितंबर से नगर परिषद ने दोबारा से कूड़ा सयंत्र में कूड़ा- कर्कट डालना शुरु कर दिया है। नगर परिषद की गाडि़यां दिन और रात कई बार यहां कूड़ा गिराते देखी गई हैं। उन्होंने बताया कि संबंधित पंचायतों के ग्रामीण पहले ही कुरांह कूड़ा संयंत्र में गंदगी फेंकने का विरोध कर रहे हैं। मगर नगर परिषद जनभावना के विपरीत काम कर रही है। उन्होंने कहा कि अगर नगर परिषद ने कुरांह में कूड़ा- कर्कट गिराना बंद नहीं किया तो इसके खिलाफ  जन आंदोलन छेड़ा जाएगा।

You might also like