चांदनी चौक से आप विधायक अल्का लांबा ने दिया पार्टी से इस्तीफा

अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव में एक बार फिर बहुमत की उम्मीद लगाए आम आदमी पार्टी (आप) को शुक्रवार को एक और झटका लगा जब लंबे समय से खिन्न चल रही चांदनी चौक से विधायक अल्का लांबा ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया।सुश्री लांबा ने ट्विटर पर अपने इस्तीफे की खबर दी। उन्होंने मंगलवार को कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की थी और इसके बाद से ही उनके आप छोड़ने की अटकलें लगनी शुरु हो गई थीं।आप की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफे की खबर देते हुए विधायक ने लिखा, “समय आ गया है कि आप को ‘गुड बाय’ बोलूं और पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दूं। पिछले छह साल की राजनीतिक यात्रा में काफी सीखने को मिला। सबको धन्यवाद।” सुश्री लंबा कांग्रेस के साथ पहले भी 20 साल तक जुड़ी रही थी और 2013 में आप में शामिल हुई थीं। पिछले विधानसभा चुनाव में वह आप की टिकट पर चांदनी चौक से विजयी हुई थीं।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के निकटस्थ सहयोगी रहे पूर्व मंत्री और करावल नगर से विधायक कपिल मिश्रा, बिजवासन से देंवेंद्र सहरावत और गांधी नगर विधायक अनिल वाजपेयी के अलावा कुछ और विधायक भी आप से बागी हो चुके हैं।

सुश्री लांबा की आप से दूरियां पिछले साल उस समय और गहरा गई थीं जब पार्टी ने एक प्रस्ताव पारित कर पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी को मिले देश के सर्वोच्च पुरस्कार भारत रत्न को वापस लेने की मांग की थी।

 

You might also like