धर्मपुर में विभिन्न संगठनों ने न्याय मंच का गठन कर भ्रष्टाचार के खिलाफ खोला मोर्चा

मंत्री बाप-बेटे के खिलाफ जाएंगे कोर्ट

धर्मपुर-धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र में स्थानीय विधायक एवं आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर व उनके बेटे के खिलाफ विभिन्न संगठनों ने न्याय मंच का गठन कर मोर्चा खोल दिया है। धर्मपुर में रविवार को हुई बैठक में इस मंच का गठन किया गया। बैठक की अध्यक्षता जिला परिषद सदस्य भूपेंद्र सिंह, सेवा विकास समिति संधोल के अध्यक्ष मान सिंह सकलानी, अर्द्धसैनिक बल संघ मंडी के अध्यक्ष कुलदीप सिंह ठाकुर, किसान सभा के रणताज़ राणा, गंगा राम ठाकुर, संजय ठाकुर और जितेंद्र कुमार ने की। इस सांझे मंच में कांग्रेस, भाजपा व  कम्युनिस्ट पार्टी तथा जन संगठनों, संस्थाओं व यूनियनों के पदाधिकारियों को शामिल कर 31 सदस्यीय कमेटी बनाई गई है। मंच ने बैठक कर दस सूत्री एजेंडा तय किया है, जिसमें भूपेंद्र सिंह को मुख्य सलाहकार, गंगा राम ठाकुर को संयोजक तथा रणतांज राणा को सह संयोजक चुना गया। मंच आरटीआई लगाकर हाई कोर्ट में धर्मपुर को लेकर तीन जनहित याचिकाएं दायर करेगा। जिला परिषद सदस्य भूपेंद्र सिंह ने बताया कि यह मंच पिछले बीस महींनों में धर्मपुर में हुए भ्रष्टाचार को उजागर करेगा। उन्होंने कहा कि स्थानीय विधायक के मंत्री बनने के बाद धर्मपुर की व्ययवस्था तानाशाही व परिवारवाद में बदल गई है। सरकारी विभाग नियमों को ताक पर रखकर राजनीतिक आधार पर भेदभाव पूर्ण तरीके से काम कर रहे हैं। मंत्री के बेटे के निर्देशों के आधार पर कार्यों की बंदरबांट हो रही है।  विरोध करने वालों को तथा उनके परिवार के सदस्यों को राजनीतिक आधार पर ट्रांसफ र  करके प्रताडि़त किया जा रहा है। इसलिए इस तनाशाही वाली कर्यप्रणाली व परिवारवाद के खि़लाफ़  इस सांझा मंच का गठन किया गया है।

You might also like