नाहन में अतिक्रमण पर फिर चला पीला पंजा

प्रदेश उच्च न्यायालय के कड़े आदेश के बाद हरकत में जिला प्रशासन व नगर परिषद, शहर में चिन्हित 10 अवैध कब्जों को किया मटियामेट

नाहन -प्रदेश उच्च न्यायालय के कड़े आदेश के बाद उत्तर भारत की सबसे पुरानी नगर परिषद नाहन को आखिरकार जेसीबी का पंजा अवैध निर्माण पर फिर चलाना पड़ा। भारी पुलिस बल की मौजूदगी में नाहन शहर में सोमवार को अतिक्रमण हटाए जाने का दूसरा चरण आरंभ किया गया। नाहन शहर में धारा 144 लागू रही तथा शहर छावनी में तबदील रहा। भारी पुलिस बल के बीच नगर परिषद के अधिकारियों व मजदूरों ने शहर में द्वितीय चरण के लिए सोमवार को चिन्हित 10 अवैध कब्जों पर जमकर हथौड़ा बजाया तथा जेसीबी से आशियाने को मटियामेट कर दिया। निर्धारित समय व तिथि के तहत नगर परिषद कार्यालय के बाहर पुलिस का भारी बल सुबह नौ बजे से तैनात हो गया था। जिला प्रशासन की ओर से प्रशासनिक अमले की अगवाई तहसीलदार नाहन नारायण चौहान द्वारा की गई। उन्होंने नगर परिषद द्वारा तैयार की गई 10 अतिक्रमण की सूची के तहत पुलिस बल को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए तथा मौके पर पुलिस बल को तैनात कर दिया। नगर परिषद के कार्यकारी अधिकारी अजमेर ठाकुर की अगवाई में टीम पशुपालन विभाग के कार्यालय के समीप पहले सबसे बड़े अतिक्रमण को मटियामेट करने के लिए मौके पर पहुंच गई। अवैध रूप से निर्मित किए गए उषा रानी के नगर परिषद की 322.30 वर्ग मीटर पर बनाए गए पक्के मकान पर जेसीबी चलाई गई। इस दौरान तमाम प्रशासनिक अमला व पुलिस बल मौके पर तैनात रहा। मीडिया के कर्मी भी कैमरा लेकर मौके पर जेसीबी के पंजे को कैमरे में कैद करने के लिए मुस्तैद रहे। उषा रानी के पक्के मकान को पूरी तरह से क्षतिग्रस्त किया गया। इसके बाद हाथी की कब्र के समीप बिमला देवी के द्वारा नगर परिषद की 45.5 वर्ग मीटर जमीन पर बनाए गए गैराज को तोड़ा गया। इसके अलावा जिन सात लोगों के अवैध निर्माण सोमवार को क्षतिग्रस्त किए गए उनमें सावित्री देवी हाथी की कब्र के समीप 6.51 वर्ग मीटर, मोहम्मद अली का 57.50 वर्ग मीटर भूमि पर हाथी की कब्र के समीप बना पक्का मकान, सुनीता देवी समीप सेंट्रल जेल नाहन 218 वर्ग मीटर पर बना पक्का मकान, कुलदीप कुमार नजदीक हाथी की कब्र का 15.63 वर्ग मीटर में बना शौचालय व बाउंडरी वॉल, जयपाल का हाथी की कब्र के समीप 15.63 वर्ग मीटर में बना शौचालय बाउंड्री वॉल व गेट, गफार खान का पुराने डीपीआरओ कार्यालय के समीप 31.50 वर्ग मीटर पर बना पक्का मकान, कौशल्या देवी का मेडिकल क्वार्टर शिमला रोड समीप बना 37.75 वर्ग मीटर में कच्चा मकान व मीमा राम का शिमला रोड पर मेडिकल क्वार्टर के समीप 52 वर्ग मीटर में निर्मित किया गया अवैध कब्जा जेसीबी से हटाया गया। गौर हो कि नाहन शहर में अतिक्रमण व अवैध निर्माण को लेकर प्रदेश उच्च न्यायालय में एक जनहित याचिका दायर की गई थी, जिसके बाद प्रदेश उच्च न्यायालय ने कड़ा संज्ञान लेते हुए जिला प्रशासन व नगर परिषद नाहन को कड़े निर्देश अवैध निर्माण व अतिक्रमण को हटाए जाने के लिए जारी किए थे, जिसके बाद नगर परिषद ने गत माह प्रथम चरण में नाहन शहर के 19 अवैध कब्जों पर जेसीबी व हथौड़ा चलाया था। नगर परिषद ने फिलहाल 68 अवैध कब्जे तोड़ने के लिए चिन्हित किए हैं। प्रदेश उच्च न्यायालय ने नगर परिषद को 30 सितंबर तक का समय दिया है। उधर, अतिक्रमण हटाए जाने की पुष्टि करते हुए नगर परिषद नाहन के कार्यकारी अधिकारी अजमेर ठाकुर ने बताया कि सोमवार को पुलिस बल के बीच 10 अवैध निर्माण को हटा दिया गया है। उन्होंने कहा कि यह प्रक्रिया आगे भी जारी रहेगी। इस अवसर पर डीएसपी मुख्यालय पदम देव ठाकुर, थाना प्रभारी नाहन मानवेंद्र ठाकुर, नगर परिषद के सहायक अभियंता परवेज इकबाल आदि विभिन्न विभागों के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।

You might also like