न्यू स्टेट लाइब्रेरी में स्टडी को तैयार रहें

शिक्षा विभाग ने किया दावा; हर वर्ग के लोगों को दी जाएगी सुविधा, उद्घाटन के दो साल बाद लाइब्रेरी खुलने की जगी उम्मीद

शिमला –लंबे समय से स्टेट लाइब्रेरी का इंतजार कर रहे लोगों के लिए खास खबर है। 2 अक्तूबर से स्टेट लाइब्रेरी खोल दी जाएगी। वहीं यहां पुरानी लाइब्रेरी की किताबें भी शिफ्ट हो जाएंगी। उच्च शिक्षा विभाग के निदेशक ने एक बार फिर से दावा किया है कि नई लाइब्रेरी में लोगों को हर सुविधा प्रदान की जाएगी। वहीं लोगों को अब न्यू स्टेट लाइब्रेरी में पढ़ने के लिए कोई दिक्कतें नहीं आएंगी। वहीं हर वर्ग के लोगों को अलग-अलग सुविधाएं देने का भी आश्वासन शिक्षा विभाग ने दिया है। बता दें कि स्टेट लाइब्रेरी में पुरानी किताबों को शिफ्ट करने का कार्य इन दिनों चल रहा है। शिक्षा विभाग ने एक हफ्ते के भीतर पुरानी किताबों को नई लाइबे्ररी में शिफ्ट करने के आदेश दिए हंै। चौड़ा मैदान स्थित यह लाइब्रेरी 12 करोड़ की लागत से बनाई गई है। बहुमंजिला पुस्तकालय के इस भवन में कई आपतियां भी वन विभाग ने जताई थीं। बता दें कि शिक्षा विभाग ने इस भवन की एनओसी नहीं दी है। उधर शिक्षा विभाग का मानना है कि एनओसी के मामले को जल्द सुलझा दिया जाएगा। फिलहाल यह अच्छी खबर है कि बड़ी जद्दोजहद के बाद अब नया बना राज्य पुस्तकालय शुरू हो जाएगा। जानकारी मिली है कि इस पुस्तकालय में छात्र मॉडल तरीके से पढ़ाई कर पाएंगे। वहीं ऑनलाइन सुविधा भी यहां छात्रों को मुहैया करवाई जाएगी। नया पुस्तकालय वाई फाई युक्त होगा। यहां पहले के मुताबिक हजारों की संख्या में छात्र एक ही बारी में पढ़ पाएंगे। खास बात यह है कि  नए पुस्तकालय में छोटे बच्चों को भी अलग सेक्शन होगा। वहीं एक सेक्शन में कम्पयूटर भी लगे होंगे। उल्लेखनीय है कि एक साल से तैयार नई लाइब्रेरी का भवन मात्र शोपीस बनकर ही रह गया था, अभी भी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले छात्र पुरानी लाइब्रेरी के एक व दो कमरे में बैठने को मजबूर हैं।

पुरानी लाइब्रेरी की हालत बुरी

बता दें कि शिमला के रिज मैदान पर स्थित स्टेट लाइब्रेरी की हालत खस्ता है। यहां सौ छात्रों को भी बड़ी मुश्किल से बैठना पड़ता है। वहीं पुरानी स्टेट लाइब्रेरी में किताबें तक खराब हो गई हंै। गौर हो कि अगर नई स्टेट लाइब्रेरी पहले शिफ्ट हो जाती तो हजारों लोगों को जहां फायदा होना था, वहीं पुरातन काल की खराब हो रही किताबें भी सेफ होनी थीं।

You might also like