पुलिस ने रिकवर किए ठगी के 30 लाख

बीबीएन –नौकरी दिलवाने के नाम पर करोड़ांे की ठगी के मामले में पुलिस ने 30 लाख रुपए की रिकवरी कर ली है। ठग गिरोह के सरगना रोहित कायस्था ने चंड़ीगढ़ में प्रापर्टी की खरीद फरोख्त के लिए 30 लाख रुपए डीलरों को दिए थे, जिन्हें बद्दी पुलिस ने रिकवर कर लिया है। इसके अलावा अब रोहित कायस्था को बिलासपुर पुलिस ने अपनी कस्टडी में ले लिया है। बतातें चलें कि रोहित कायस्था के खिलाफ बद्दी के अलावा बिलासपुर , कांगड़ा व चंबा में भी धोखाधड़ी के मुकदमें दर्ज है। बतातें चलें कि बद्दी पुलिस ने बीते दिनों सरकारी नौकरी दिलवाने के नाम पर ठगी करने वाली गैंग का भंडाफोड़ किया था , इस गैंग के मुखिया रोहित कायस्था सहित अनिल कुमार ,पंकज कुमार दोनों निवासी अमनेड जिला हमीरपुर,  चंद्रशेखर व  गगनदीप दोनों निवासी पुलिस के हत्थे चढ़ चुके है। पड़ताल में खुलासा हुआ है कि रोहित कायस्था सरकारी नौकरी दिलवाने के इस रैकेट को वर्ष 2017 में शुरू किया था और तब से लेकर अब तक 100 से ज्यादा लोगों से अनुमानित दस करोड़ तक ठग चुुके हैं। रोहित के खिलाफ 2017 में पहला मुकदमा दर्ज हुआ था,उसके खिलाफ कांगड़ा, चंबा, बिलासपुर के अलावा पंजाब व हरियाणा में भी जालसाजी के मामले दर्ज है। रोहित कायस्था ने ठगी के पैसों से जहां चंडीगढ़ में करोड़ों का होटल लीज पर ले लिया था, वहीं कई फ्लैट की भी खरीद फरोख्त कर चुके थे। एसपी बद्दी रोहित मालपानी ने बताया कि पुलिस ने इस मामले में करीब 30 लाख रुपए की रिकवरी कर ली है, इसके अलावा अब बिलासपुर में दर्ज मामले की जांच के लिए बिलासपुर पुलिस ने रोहित कायस्था को अपनी कस्टडी में ले लिया है।

You might also like