प्रधानमंत्री मोदी 25 दिसंबर को जनता के नाम करेंगे रोहतांग टनल

शिमला – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 दिसंबर को अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती के मौके पर रोहतांग टनल को जनता को समर्पित करेंगे। कृषि मंत्री रामलाल मारकंडा ने यह जानकारी शिमला प्रेस क्लब में आयोजित प्रेस से मिलिए कार्यक्रम में दी। उन्होंने कहा कि लाहुल-स्पीति में भारी बर्फबारी के दौरान इसका संपर्क शेष दुनिया से कट जाता था, जिससे जनता को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता था। अब इस टनल के खुलने से जनता को दिक्कतों का सामना नहीं करना पडे़गा। इससे पांगी, भरमौर व लद्दाख की जनता को भी लाभ पहुंचेगा। खास बात यह है कि अटल बिहारी वाजपेयी के अथक प्रयासों से टनल का निर्माण हो पाया है, इसलिए सरकार ने इसके उद्घाटन के लिए उनकी जयंती का दिन चुना है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने किसानों की आय को दोगुना करने का लक्ष्य रखा है। आवारा पशुओं, जंगली जानवरों और बंदरों से किसानों की फसल को बचाने के लिए हिमाचल सरकार ने प्रदेश में सोलर फेंसिंग लगाने की योजना शुरू की थी। अब राज्य सरकार द्वारा मुख्यमंत्री खेत संरक्षण योजना के माध्यम से कांटेदार तार बाड़ और चैनलिंक व कंपोजिट बाड़ दो तरह की योजनाओं को जोड़ा है, जिसमें सरकार किसानों को कांटेदार तार या चैनलिंक से लोहे के पोल या आरसीसी के पोल के साथ बाड़बंदी करने पर 50 फीसदी की सबसिडी देगी, जबकि कंपोजिट बाड़ लगाने पर 70 फीसदी सबसिडी किसान को मिलेगी। प्रदेश सरकार ने इस योजना के लिए वर्ष 2019-20 में 35 करोड़ रुपए का बजट का प्रावधान किया है, लेकिन कांटेदार तार मंहगी होने के कारण किसान इन योजनाओं में भी कम रूचि दिखा रहे हैं और सरकार इसमें सबसिडी बढ़ाने की मांग कर रहे है, ताकि लोग इसका फायदा उठा सके। कृषि मंत्री ने बताया कि हिमाचल प्रदेश में बरसात से खरीफ फसल को 8751.26 लाख का नुकसान पहुंचा है। 31 अगस्त 2019 तक  443910 हेक्टेयर फसल बारिश की भेंट चढ़ गई, जिससे 28606 हेक्टर कृषि भूमि प्रभावित हुई है। सबसे ज्यादा नुकसान सिरमौर जिला की फैसलों को पहुंचा हैं। सबसे कम नुकसान बिलासपुर में लाख हुआ है। उन्होंने बताया कि इस बार बरसात से फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है, जिसकी भरपाई के लिए केंद्र से मदद मांगी जाएगी।

You might also like