प्रिंसीपल पदोन्नति कोटे से छेड़छाड़ नामंजूर

सुंदरनगर।  हिमाचल प्रदेश स्कूल पदोन्नत प्रवक्ता संघ एवं टीजीटी संवर्ग जिला मंडी के अध्यक्ष कमल किशोर शर्मा का कहना है कि मुख्य अध्यापकों से प्रधानाचार्य के पदों पर पदोन्नति कोटे को बढ़ाने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि यह कोटा वर्तमान में सीधी भर्ती प्रवक्ताओं और मुख्य अध्यापकों के लिए 50ः50 प्रतिशत का है, सीधी भर्ती प्रवक्ता बार-बार सरकार के समक्ष तर्क देते हैं कि मुख्य अध्यापकों की संख्या 850 है और प्रवक्ता 18000 हैं। टीजीटी संवर्ग संघ यह स्पष्ट करना चाहता है कि कुल लगभग 18000 प्रवक्ताओं में से 50 प्रतिशत यानि की 9000 पदोन्नत प्रवक्ता और पदोन्नति पीजीटी हैं तथा सीधी भर्ती प्रवक्ता 2500, पीटीए और पैरा प्रवक्ता 2150, पीजीटी डायरेक्ट 4000, यानी के कुल 8650 के करीब सीधी भर्ती प्रवक्ता है। यदि उक्त कोटा कम होता है तो इसका सीधा असर टीजीटी वर्ग के शिक्षकों की पदोन्नति पर पड़ता है। इस मौके पर मुख्य अध्यापक एवं अधिकारी संघ जिला मंडी के अध्यक्ष प्रवीण गुलेरिया, विज्ञान अध्यापक जिला मंडी के अध्यक्ष नरेंद्र कुमार वर्मा, कला स्नातक संघ की अध्यक्ष नंद कुमार सहित समस्त टीजीटी वर्ग ने जोर शोर से प्रदेश सरकार के समक्ष मुद्दा उठाया।

 

You might also like