माता मुराह देवी में जल्द बुझेगी श्रद्धालुओं की प्यास

पेयजल योजना उद्घाटन को तैयार, नवरात्र में मिलेगा पानी

सरकाघाट-उपमंडल सरकाघाट के अंतर्गत आने वाली माता मुराह देवी मंदिर के लिए पेयजल योजना उद्घाटन के लिए तैयार है और श्रद्धालुओं को नवरात्र तक पानी मिलने की उम्मीद है। कभी किसी ने सोचा नहीं था कि माता मुराह देवी, जिसकी ऊंचाई लगभग 1300 मीटर है के प्रांगण में स्वच्छ पानी पहुंचेगा। प्राचीन काल से माता के दरबार पहुंचने वाले सभी श्रद्धालु बारिश का कुएं में एकत्रित करते थे और उसी पानी को पीने के लिए मजबूर थे। माता जी के आशीर्वाद व विभाग एवं ग्रामिणों के सहयोग और अनिल शर्मा के प्रयासों से गगंवातार नामक स्थान जहां जंगल में एक कृत्रिम पानी का जमीन से निकलता है। वहां मात्र 1500 लीटर का टैंक, 610 मीटर पाइप लाइन और दो पंप लगने थे पर सड़क मार्ग से दूर होने के कारण यह स्थान सड़क से आठ किलोमीटर की दूरी पर है और खड़ी चढ़ाई है, जहां पैदल पहुंचना भी मुश्किल होता है, वहां तक सामान पहुंचाना बहुत ही कठिन कार्य था। कुलदेवी के आशीर्वाद से अनिल शर्मा ने यहां 1500 लीटर की जगह 7000 लीटर का टैंक बनवा दिया और 610 मीटर पाइपलाइन भी मंदिर तक पहुंचाने में सबको अचंभित कर दिया। उसके बाद भी पानी की समस्या हल नहीं हुई, लेकिन थ्री फेज बिजली की सप्लाई न होने की वजह से पंप मशीनरी भी लग सकी थी पर अब बिजली बोर्ड ने थ्री फेज बिजली की लाइन मंदिर तक पहुंचाई गई। अब पंप मशीनरी लगाकर कार्य पूर्ण कर लिया है और उम्मीद से ज्यादा पानी मंदिर के पास पहुंचाने में महारत हासिल करने में कामयाब हुए हैं।  समाजसेवी  चंद्र मोहन शर्मा ने तथा रिस्सा के सामाजिक कार्यकर्ता सुनील कुमार शर्मा ने और समस्त पंचायतवासियों ने इस कार्य को अंजाम तक पहुंचाने के लिए अनिल शर्मा को शुभकामनाएं देकर आभार व्यक्त किया है। अनिल शर्मा ने भी सहयोग के लिए सभी ग्रामीणों का आभार प्रकट किया है।

You might also like