यूटी में सरेआम मर्डर के आरोपी दबोचे

सेक्टर-17 में युवक को मारी थी गोली, दो आरोपी अभी भी गिरफ्त से बाहर

चंडीगढ़  – चंडीगढ़ पुलिस की क्राइम ब्रांच ने बीती चार सितंबर को  सेक्टर-17 युवक की गोली मारकर हत्या करने वाले आरोपियों को दबोच लिया है। क्राइम ब्रांच के एसपी ने पुलिस मुख्यालय सेक्टर-9 में एक प्रेस कान्फ्रेंस कर इसकी जानकारी दी है। क्राइम ब्रांच के के एसपी मनोज कुमार मीणा के अनुसार क्राइम ब्रांच को एक गुप्त सूचना मिली थी कि मनीमाजरा के शिवालिक गार्डन में युवक के हत्यारे मौजूद हैं, जिसके बाद क्राइम ब्रांच डीएसपी के सुपरविजन में सब इंस्पेक्टर सतविंदर सिंह ने अपनी टीम के साथ मनीमाजरा में नाका लगा दियाए घेरा बंदी कर ली और इसी नाके के दौरान तीनो आरोपियों को दबोच लिया। क्राइम ब्रांच के मुताबिक युवक की हत्या करने वाले पांच लोग हैं जिनमें से पकडे़ गए ये तीन हैं, बाकी दो अभी फरार चल रहे हैं। फिलहाल हत्या का मुख्य आरोपी गिरफ्त में आ गया है जिसका नाम विकास मोर उर्फ  बॉक्सर  (20 साल) निवासी नरवाना जींद, हरियाणा है। वहीं दो अन्य आरोपी गुरमीत सिंह और अमित हैं।   गौरतलब है कि बीते चार सितंबर को सेक्टर-17 पुरानी जिला अदालत के बाहर पार्किंग में एक युवक पर चार बेखौफ नकाबपोश युवकों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसाईं थीं, जिससे उसकी मौत गई थी। मृतक युवक की पहचान तेजेंद्र पाल सिंह (करीब 24) निवासी हरियाणा जींद के रूप में हुई थी।

यह था पूरा मामला

बताया जाता है कि तेजेंद्र पाल सिंह जो कि अब मर चुका है, वह चंडीगढ़ अपने दोस्त संदीप से मिलने आया था। संदीप एक टैक्सी चालक है। दोनों सेक्टर-17 सेंट्रल थाने से कुछ ही कदम की दूरी पर खड़े होकर बाते कर रह थे कि तभी पैदल आए पांच बेखौफ  नकाबपोश युवकों ने तेजेंद्र पाल सिंह पर गोलियां बरसानी शुरू कर दी थीं। नकाबपोश युवकों ने तेजेंद्र पाल सिंह को पांच गोली मारीं, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। वहीं इस गोलीकांड में तेजेंद्र पाल सिंह के दोस्त संदीप टैक्सी चालक को भी एक गोली लगी, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया था। जानकारी के मुताबिक अप्रैल में जिला जींद के गांव नरवाना में मोहित मोर की हत्या कर दी गई थी, जिसमें तेजिंदर पाल सिंह और उसके दो साथियों पर हत्या का आरोप लगा था, जहां बदला लेने के लिए विकास मोर ने तेजेंद्र पाल सिंह का पता लगाकर सेक्टर- 17 में चार सितंबर को पुरानी जिला अदालत के बाहर पार्किंग में उसके सीने में ताबड़तोड़ गोलियां दागी थीं।

You might also like