रिकांगपिओ में फिर निकाली रोष रैली, न्याय मांगा

रिकांगपिओ  – लापता सोनम का एक सप्ताह बाद भी कोई सुराख नहीं लगने पर आज शनिवार को पूह ब्लॉक के सैकड़ों ग्रामीण ने जिला मुख्यालय रिकांगपिओ में रैली निकाल कर पुलिस के प्रति कड़ी नाराजगी जताई। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने इस पूरे मामले को सीबीआई को सौंपने की भी मांग करते हुए सोनम की  तलाश के लिए एनडीआरएफ  की टीम को बुलवाने की भी मांग की। सैकड़ों ग्रामीणों ने शनिवार को  रिकांगपिओ में रैली निकालने के बाद बाद धरना-प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रशासन द्वारा ग्रामीणों को समझाने की कोशिश की गई लेकिन ग्रामीण पूरे मामले की सीबीआई जांच की मांग करते रहे। इस दौरान ग्रामीण ने पुलिस पर मामला को गंभीरता से नहीं लेने का भी आरोप लगाया। इस दौरान प्रशासन, पुलिस व ग्रामीणों के बीच नोक-झोंक भी होता रहा। इस दौरान ग्रामीणों ने पवारी के पास राष्ट्रीय उच्च मार्ग पांच पर भी धरना-प्रदर्शन किया। कई घंटों तक चक्का जाम रहने पर प्रशासन को ग्रामीणों के आगे झुकना पड़ा। किन्नौर प्रशासन की ओर से सहायक आयुक्त हर्ष अमनेंद्र नेगी ने ग्रामीणों को लिखित रूप में बताया कि इस पूरे मामले की जांच सीबीआई से करवाने व एनडीआरएफ को जल्द बुलाने के आश्वासन देने के बाद ही मामला शांत हुआ। गौर रहे कि सात सितंबर की देर रात सोनम पुत्र प्रकाश चंद उर्फ रिगजिन दोर्जे गांव खाब जिला किन्नौर अपने भवन निर्माण के लिए दो-तीन मजदूरों के साथ भगत नाला नामक स्थान पर सतलुज किनारे रेत निकालने गया था। इस दौरान सोनम का घटनास्थल पर अन्य लोगों के बीच बहस गई। मामला बढ़ता देख सोनम के मजदूर घटनास्थल से भाग खड़े हुए। इस दौरान एक मजदूर ने सोनम के साथ मारपीट होने की सूचना सोनम के रिश्तेदार राजू को मोबाइल पर दी थी। जिस के बाद राजू पूह ने पुलिस थाना पूह को सूचित कर पुलिस के साथ घटनास्थल पहुंचे। इस दौरान घटनास्थल पर सोनम का रेत से भरा वाहन एचपी 63 टी 2805 पाया गया जबकि सोनम गायब था। अगले दिन जब पुलिस सहित स्थानीय लोग घटनास्थल पहुंचे तो पत्थरों पर खून के दब्बे पाए जाने के साथ दो चप्पल वाहन से कुछ दूरी पर पाया गया लेकिन सोनम का कुछ भी पता नहीं चल पाया। आठ सितंबर को सोनम के पिता प्रकाश चंद ने सोनम के गुम होने की सूचना पुलिस थाना पूह में दर्ज करवाते हुए अपने बेटी की हत्या होने की आशंका जताई है। उधर दस सितंबर को किन्नौर पुलिस ने नौ लोगों के विरुद्ध आपराधिक मामला दर्ज कर हिरासत में ले लिया था। पुलिस द्वारा  हिरासत में लिए गए लोगों में कलजंग गांव पूह, शशी भूषण पूह, संडुप दोर्जे गांव पूह, दिले राम निरमंड जिला कुल्लू, नुप राम ड्राइबर निरमंड जिला कुल्लू सहित दलीय, गोरव, शंकर, दीपक  चारो नेपाली शामिल है। पुलिस ने इन सभी लोगों के विरुद्ध 34, 341, 364, 302 के तहत मामला दर्ज हिरासत में लिया था। हिरासत में लिए सभी को पहले 14 सितंबर तक पुलिस रिमांड हुई थी। पुलिस ने शनिवार को पुनः सभी को जिला कोर्ट में पेश किया गया। न्यायालय ने फिर से सभी को 18 सितंबर तक पुलिस रिमांड में भेज दिया।

You might also like