रिज पर महा नगर कीर्तन की तैयारी

शिमला में धूमधाम से मनाया जाएगा गुरू नानक पर्व, शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने ली बैठक

शिमला –शिमला के रिज मैदान पर गुरु नानक पर्व 28 सिंतबर को बड़े ही हर्षोउल्लास के साथ मनाया जाएगा। गुरू नानक देव की 550 वें प्रकाश पर्व के समागम में समाज का प्रत्येक वर्ग बढ़-चढ़कर भाग लें, यही गुरू नानक देव की शिक्षाओं के प्रति सच्ची आस्था होगी। शिक्षा, विधि एवं संसदीय मामले मंत्री सुरेश भारद्वाज ने यह विचार गुरू नानक देव के 550वें प्रकाश पर्व के राज्य स्तरीय आयोजन की तैयारियों के लिए आयोजित समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए व्यक्त किए। सुरेश भारद्वाज ने कहा कि राज्य स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन 28 व 29 सितम्बर को ऐतिहासिक रिज मैदान पर आयोजित किया जाएगा। कार्यक्त्रम के सफल आयोजन के लिए मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में समिति का गठन किया गया है। उन्होंने बैठक में जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, भाषा एवं संस्कृति विभाग, नगर निगम, लोक निर्माण विभाग, सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, अग्निशमन तथा अन्य विभागों को कर्तव्य पालन तथा विभिन्न गतिवधियों के क्रियान्वयन के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा कि 28 सितम्बर को विशाल नगर कीर्तन डीसी ऑफिस तारघर से आरंभ होकर लोअर बाजार, शेर-ए-पंजाब, मालरोड, स्कैंडल प्वाइंट, रिज, मदर च्वाईस, शिमला क्लब-हाईकोर्ट, कार्ट रोड़ से होते हुए श्रीगुरूद्वारा में संपन्न होगा। उन्होंने इस दौरान यातायात व कानून व्यवस्था सामान्य बनाए रखने के लिए भी अधिकारियों को निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि कार्यक्रम के दौरान पार्किंग, पेयजल व्यवस्था, लंगर व्यवस्था तथा समागम से संबंधित अन्य गतिविधियों के दायित्वों के प्रति संबंधित विभागों को आदेश दिए। आयोजन के अंतर्गत रिज मैदान तथा अन्य स्थलों पर भी कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे, जिसके सामान्य व सुचारू संचालन के लिए विभागों को समन्वय स्थापित कर उचित व्यवस्था करने को कहा। उपायुक्त शिमला अमित कश्यप ने कहा कि प्रकाश पर्व के सफल आयोजन के लिए मंत्री द्वारा दिए गए दिशा-निर्देशों का गंभीरता से पालन किया जाएगा। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक शिमला ओमापति जमवाल, विभिन्न विभागों के उच्च अधिकारी, गुरूसिंह सभा के अध्यक्ष जसविंद्र सिंह तथा अन्य पदाधिकारीगण, विश्व हिंदु परिषद के ट्रस्टी अमन पुरी तथा विभिन्न धार्मिक व सामाजिक संस्थाओं के पदाधिकारी उपस्थित रहे। 

You might also like