सुबाथू बाजार में अवैध अतिक्रमण पर शिकंजा

सुबाथू –छावनी परिषद सुबाथू ने मंगलवार सुबह से बाजार में अतिक्रमण करने वाले दुकानदारों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। मंगलवार सुबह पहले तो परिषद के कर्मचारियों ने बाजार में अतिक्रमण करने वाले दुकानदारों की फोटो ली उसके बाद सभी दुकानदारों को अपनी दुकान से बाहर रखा हुआ सामना अंदर करवाया। सूत्रों की मानंे तो मंगलवार सुबह उस समय हड़कंप मच गया जब किसी ने परिषद के उच्चाधिकारी के पास बाजार में हुए अतिक्रमण की कुछ तस्वीरें भेज दी। अतिक्रमण की तस्वीरें मिलने के तुरंत बाद ही परिषद ने उस पर कड़ा संज्ञान लेते हुए अपने कर्मचरियों को बाजार में अतिक्रमण हटाने भेज दिया। कर्मचारियों ने अपर बाजार से लेकर लोअर बाजार तक दुकानदारों द्वारा किए गए अतिक्रमण को हटाया। हालांकि की कुछ दुकानदार सोच रहे थे की दिन के बाद अपना सामान वह बाहर लगा लेंगे परंतु परिषद ने इस पर अपनी पैनी नजर बनाई हुई थी। परिषद के कर्मचारी थोड़े-थोड़े समय बाद बाजार में निगरानी करते नजर आ रहे थे। जिसके चलते दुकानदार अपना सामान बाहर न निकल सके। गौर रहे कि बीते लंबे समय से दुकानदारों ने बाजार में अतिक्रमण करने के सारे रिकार्ड तोड़ दिए थे। आलम ऐसा हो चूका था की कुछ दुकानदार तो शायद भूल ही गए की वो छावनी क्षेत्र में रहते है और वहां के कुछ नियम भी है। दुकानदारों द्वारा छावनी परिषद के नियमों को सरेआम ठेंगा दिखाने में कोई कमी नहीं छोड़ी जाती थी। दुकानदारों का समाना इतना तो दुकान के अंदर नहीं रखा होता, जितना सामान दुकानों के बाहर सरकारी भूमि में रखा होता है उस समय वहां का नजारा भी कुछ ऐसा होता है जैसे हर रोज छावनी क्षेत्र में मेला चल रहा हो। हालांकि परिषद की मंगलवार को हुई इस कार्रवाई से यह अंदाजा लगाया जा रहा है की अब छावनी बाजार में ऐसा बिलकुल भी नहीं चलेगा। वहीं परिषद द्वारा कि गई कार्रवाई का असर बुधवार को भी देखने को मिला। इस बारे में छावनी सीईओ दिवांशु चौधरी ने बताया कि  सभी दुकानदार अपना सामान दुकानों के अंदर रखें। अगर किसी भी दुकानदार का सामान दुकान से बाहर पाया जाता है तो उस पर कार्रवाई की जाएगी।

You might also like