सेब को धकेल टमाटर बना किंग

सोलन -इस बार भले ही सेब की बंपर पैदावार हुई है, लेकिन मार्केट का राजा टमाटर ही रहा। मार्केट पहुंचे सेब व टमाटर की अब तक की औसत पर गौर करे तो टमाटर ने उत्पादकों की बल्ले-बल्ले की है। हालांकि टमाटर सीजन अब अपने अंतिम पड़ाव पर हैं और सेब सीजन भी 80 फीसदी तक पहुंच चुका है। जानकारी के अनुसार कृषि उपज एवं मंडी समिति सोलन के अधीन सभी मंडियों में इस सीजन छह लाख 19 हजार 194 क्रेट टमाटर के पहुंचे। हालांकि सीजन के दौरान टमाटर के रेट में काफी उतार चढ़ाव रहा, बावजूद इसके किसानों को अच्छे खासे रेट मिले। किसानों को सबसे कम 600 जबकि सबसे अधिक 21 रुपए प्रति क्रेट तक रेट मिला। पूरे सीजन पर बात करे तो टमाटर का रेट 1300 रुपए प्रति क्रेट रहा।  इसके अलावा यदि सेब की बात करे तो सोलन मंडी में औसतन 20 हजार जबकि टर्मिनल मंडी परवाणू में 23 हजार बाक्स प्रतिदिन पहुंच रहे हैं। 20 सितंबर तक टर्मिनल मंडी परवाणू में 14 लाख 83 हजार, 422 जबकि सोलन मंडी में 15 लाख 15 हजार 551 बाक्स सेब के पहुंचे हैं। सेब मंडी सोलन में सबसे कम 250 जबकि सबसे अधिक 1650 रुपए प्रति बाक्स के हिसाब से सेब बिका। यदि औसत पर गौर फरमाए तो सोलन मंडी में अब तक 700 रुपए प्रति बॉक्स रेट रहा है। टर्मिनल मंडी परवाणू में सबसे कम 400 बल्कि सबसे अधिक 1800 रुपए तक सेब का  रेट रहा। औसत के हिसाब से टर्मिनल मंडी परवाणू में अब तक 800 रुपए प्रति बाक्स के हिसाब से सेब की बिक्री हुई है। यद्यपि परवाणू मंडी में सोलन मंडी की अपेक्षा कम सेब की पेटियां पहुंची हैं। आकंड़ों पर नजर डाले तो टर्मिनल मंडी परवाणू में अभी तक 135 करोड़, 92 लाख, 20 हजार, 791 रुपए का कारोबार हुआ है। इसके अतिरिक्त सोलन मंडी में 170 करोड़, 25 लाख 27 हजार,995 रुपए का कारोबार हुआ है। यही नहीं सोलन मंडी में लहसुन, शिमला मिर्च और बीन का भी बोलबाला रहा है।

You might also like