स्टूडेंट्स बोले, हमें टरका दिया

लॉ यूनिवर्सिटी में छात्रों ने प्रशासन पर मात्र आश्वासन देने का लगाया आरोप

शिमला -मूलभूत सुविधाओं के लिए शिमला की नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी घंडल में छात्रों द्वारा आंदोलन किया जा रहा है। पिछले छह दिनों से छात्र अपनी मांगों को लेकर आंदोनल पर जुटे हुए हैं। इस दौरान लॉ विवि लगातार छात्रों के संपर्क में है। प्रशासन अपने स्तर पर छात्रों से अपील कर रहा है कि इस धरने को खत्म कर दें। प्रशासन ने छात्रों को आश्वासन दिया है कि जल्द ही उन्हें मूलभूत सुविधाएं व बेहतर शिक्षा की सुविधाएं दी जाएंगी। गौर हो कि प्रशासन ने शनिवार को भी अपने पक्ष में ब्यान जारी किया है और छात्रों से धरना खत्म करने को कहा है। छात्रों ने प्रशासन पर आरोप लगाए हैं कि प्रशासन हर बार की तरह इस बार भी केवल आश्वासन ही दे रहा है। प्रशासन का कहना है कि छात्रों को जो खाने की शिकायतें आ रही हैं उसे जल्द ठीक किया जाएगा। छात्रों द्वारा पिछले पांच-छह दिनों से जारी प्रदर्शन को देखते हुए प्रशासन ने अपने बचाव के लिए अपना पक्ष रखा है, जिसमें प्रशासन से अपनी सफाई देते हुए कहा है कि विवि में छात्रों को साफ व स्वच्छ पेयजल और हर तरह की सुविधा उपलब्ध करवाने के प्रयास किए जा रहे हैं। यूनिवर्सिटी के नए भवनों और कैंपस निर्माण का कार्य जारी है। कैंपस में फोटो स्टेट मशीन भी उपलब्ध करवा दी गई है। पुस्तकालय, कम्प्यूटर लैब की सुविधा है। प्रशासनिक भवन में शौचालय को रूटीन में रात को बंद किया गया था, जिसे अब खोल दिया है। गौर हो कि छात्र आंदोलन के बीच प्रशासन ने 18 से 25 सितंबर तक विश्वविद्यालय बंद करने का फरमान जारी किया है। छात्रों ने बताया कि यूनिवर्सिटी और छात्रावासों में पेयजल से लेकर खाने की गुणवत्ता अन्य समस्याओं  के साथ आंदोलन कर रहे इन छात्रों ने मांगें पूरी होने तक संघर्ष जारी रखने की बात कही है।

 

You might also like