118 ने मेडिकल-330 ने उठाया कैंटीन का लाभ

जोल-जिला सैनिक कल्याण विभाग व सेना की आठ मेकनाएड इन्फेंट्री के द्वारा क्षेत्र के दुर्गम इलाकों के भूतपूर्व सैनिकों व शहीदों की विधवाओं के लिए दो दिनों से चले रहे सैनिक सम्मेलन व मेडिकल कैंप व कैंटीन सुविधा का रविवार को विधिवत रूप से समापन हो गया। इस सैनिक सम्मेलन में गत 21 सितंबर को लगभग 400 सैनिकों व शहीदों की विधवाओं व रविवार को दूसरे दिन 330 लोगों ने कैंटीन व 118 लोगों ने मेडिकल सुविधा का लाभ उठाया, जिसमें लोगों को निःशुल्क दवाइयों का वितरण किया गया। वहीं, दूसरे दिन वेटर्न टीम के द्वारा भूतपूर्व सैनिकों की समस्याओं के लिए, जिसमें 22 भूतपूर्व सैनिकों की समस्याओं को उठाया गया। उनमें से 20 का मौके पर ही हल कर दिया, जबकि दो लोगों की मेजर समस्या होने के चलते उनके निदान के लिए संबंधित उच्चाधिकारियों को भेजा गया है । इस मौके पर कर्नल गिरीश अवस्थी, जिला सैनिक कल्याण बोर्ड के उपनिदेशक मेजर रघबीर सिंह, मेजर पवन सेठी, मेजर डा. रूपम, सूबेदार मेजर उत्तम सिंह, नायब सूबेदार जसपाल राणा, शहीद भगत सिंह मैमोरियल पब्लिक स्कूल सोहारी टकोली के प्रबंधक प्रभात शर्मा, प्रधानाचार्य सीमा शर्मा, समाजसेवी हिमांशु परमार, उप प्रधान सोहारी सोम नाथ शर्मा,पूर्ण शर्मा सहित काफी पूर्व सैनिक आदि उपस्थित रहे।  जिला सैनिक कल्याण विभाग ऊना के उपनिदेशक मेजर रघबीर सिंह ने बताया कि जिला सैनिक कल्याण विभाग व सेना के द्वारा आउट रीच प्रोग्रान के तहत सोहारी टकोली के शहीद भगत सिंह मैमोरियल पब्लिक स्कूल सोहारी-टकोली में दो दिवसिय म्मेलन का आयोजन किया गया। जिसमे ग्रामीण क्षेत्र की लगभग 12 पंचायतों के भूतपूर्व सैनिकों ने इस सम्मेलन में हिस्सा लेकर अपनी समस्याओं, मेडिकल सुबिधा व कैंटीन सुविधा का लाभ उठाया गया। कर्नल गिरीश अवस्थी व जिला सैनिक कल्याण बोर्ड के उपनिदेशक मेजर रघबीर सिंह ने शहीद भगत सिंह स्कूल व स्थानीय पंचायत प्रतिनिधियों के सहयोग के लिए उनका आभार प्रकट किया।

You might also like