20 क्विंटल चावल-कनक जब्त

चिंतपूर्णी में पकड़ी खेप, पुलिस के पास पहुंचे जमींदार

भरवाईं – चिंतपूर्णी पुलिस ने शुक्रवार रात दस बजे एक ट्रॉले से चावल व कनक से भरी बोरियां बरामद की हैं। पुलिस ने यह कार्रवाई भरवाईं के साथ कांगड़ा सीमा पर की है। पुलिस ने यह कार्रवाई उस समय की, जब एसएचओ जगबीर ठाकुर ने भरवाईं देहरा रोड पर नाका लगाया हुआ था, तो एक पिकअप ट्रॉला देहरा रोड की तरफ से आया, तो नाके पर खड़ी चिंतपूर्णी पुलिस ने नाके पर रोका और ट्रॉला चैक किया, तो ट्रॉले में काफी ज्यादा खाली बोरियां भरी हुई थी। जब ये खाली बोरियां हटाई गईं, तो बोरियों के नीचे काफी ज्यादा भरी हुई बोरियां मिली, जिनमें कनक और चावल था। थाना प्रभारी जगबीर ठाकुर ने इस बारे में ट्रॉला चालक व उसके साथी से पूछा, तो कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिल पाया, जिस पर सारी बोरियां ट्राले से निकालकर तोली गईं। 19 क्विंटल चावल व एक क्विंटल 57 किलोग्राम इन बोरियों में कनक निकली। वहीं, अंब फूड इंस्पेक्टर को भी मौके पर बुलाया गया था, जबकि ट्रॉला मालिक जो कि ज्वालामुखी से है, वह भी मौके पर पहुंच चुके थे। वहीं, जब रात को एक बजे तक पुलिस की कार्रवाई जारी थी, तो ट्रॉला मालिक के गांव से कुछ लोग आए और उन्होंने पुलिस को बताया कि वे जमींदार लोग हैं और चावल और कनक उन्होंने दी है। चिंतपूर्णी थाना प्रभारी जगबीर ठाकुर ने बताया कि शनिवार को सुबह देहरा की धवाला पंचायत के उपप्रधान विजय ठाकुर थाना आए थे। उन्होंने बताया कि कशमीर सिंह व बह्मदास गांव सनोट के रहने वाले हैं। यह गरीब परिवार से संबंध रखते हैं। ये लोगों को टोकरियां बनाकर देते हैं, जो कि इनका खानदानी काम है। बदले में लोग इन्हें अनाज दे देते हैं, जिसमें गेहूं व चावल देते हैं। उपप्रधान विजय ठाकुर ने बताया कि आजकल गुग्गा बाबा जी के मेले लगे हुए हैं, जिस कारण आजकल इनके पास अनाज ज्यादा इकट्ठा हो गया था। बरसात के कारण अनाज खराब न हो जाए, इसलिए वे इसे बेचने के लिए जा रहे थे।

दान में मिला था अनाज

एसएचओ जगबीर ठाकुर ने बताया कि पकड़ी गई बोरियों में चावल व कनक है। एसएचओ ने बताया कि यह सारा राशन इन लोगों को दान में मिला था, जिसे यह बेचने जा रहे थे। उधर, डीएसपी अंब मनोज जम्वाल ने कहा कि ऐसा मामला रात को आया था। छानबीन पर पाया गया कि पकड़ा गया अनाज सरकारी नहीं है। धवाला पंचायत के उपप्रधान ने पुलिस को बताया कि यह अनाज गुग्गे मेले में चढ़ा हुआ दान किया हुआ अनाज है।

You might also like