अनसोल्ड संपत्तियों को दोबारा बेचेगा हिमुडा

नवंबर में शुरू होगी नीलामी की प्रक्रिया, दुकानों से पहले फ्लैट्स नीलाम करने की योजना

शिमला – प्रदेश में अब तक नहीं बिकी संपत्तियों को हिमुडा प्रबंधन फिर से नीलाम करेगा। जानकारी के मुताबिक अगले माह नीलामी की प्रक्रिया शुरू होगी। बताया गया कि हिमुडा प्रबंधन कभी भी एक साथ अपनी सभी संपत्तियों को नीलामी नहीं करता है। अधिकारियों का दावा है कि इससे डिमांड और सप्लाई पर असर पड़ता है। हिमुडा अगर अपनी सारी संपत्ति बेचता है, तो वह लोगोंं से और मिलने वाली डिमांड को पूरा नहीं कर पाएगा। इसलिए हिमुडा अपनी संपत्ति को एक साथ न बेच कर चरणबद्ध तरीके से नीलाम करता है। हिमुडा प्रबंधन ने अपनी संपत्ति को बेच कर आठ करोड़ की आय का लक्ष्य तय किया था। अपनी 35 दुकानों को बेच कर हिमुडा प्रबंधन अपने लक्ष्य के पास तो पहुंच गया, लेकिन अपनी पूरी संपत्ति को नीलाम नहीं कर सका। इसके लिए दोबारा से ऑक्शन किया जाएगा। हिमुडा प्रबंधन अपनी अनसोल्ड दुकानों की दोबारा नीलामी करने से पहले नए बने फ्लैट्स और प्लॉट की नीलामी करेगा। हिमुडा जल्द ही फ्लेट्स की बिक्री के लिए लेगों से आवेदन मांग सकता है। इसमें 25 प्रतिशत डिमांड सर्वे के लोगों के लिए आरक्षित होगा। हिमुडा प्रबंधन अपने फ्लेट्स में डिस्काउंट देने को भी तैयार है। इसे लेकर हिमुडा प्रबंधन डिसकाउंट में फ्लैट्स देने के लिए इसके रेट तय कर रहा है। माना जा रहा है कि जल्द हिमुडा प्रबंधन अपने पुराने बने फ्लैट्स की बिक्री डिस्कांउट रेट पर शुरू करे। बताया जा रहा है कि अपनी व्यावसायिक संपत्ति की नीलामी में हिमुडा को महज 20 फीसदी ही खरीददार मिल सके हैं। हिमुडा प्रबंधन ने नालागढ़, नाहन और शिमला में अपनी 166 व्यावसायिक संपत्तियों को बेचने के लिए खुली नीलामी की थी। इस दौरान हिमुडा प्रबंधन को 35 व्यवसायिक संपत्तियों को बेच कर करीब 7.83 करोड़ की आय हुई है। शिमला और सोलन से हिमुडा को अच्छा रिस्पांस नहीं मिला है।

नालागढ़ में बिकीं तीन करोड़ से ज्यादा की दुकाने

हिमुडा को नालागढ़ से दुकानों की नीलामी करके सबसे अधिक आय हुई है। यहां पर 13 दुकानों और प्लॉट को बेच कर तीन करोड़ 90 लाख 35 हजार रुपए की आय हुई है। हिमुडा प्रबंधन ने सबसे पहले यहीं पर दुकानों की नीलामी की प्रक्रिया शुरू की थी। इसके बाद नाहन से भी हिमुडा प्रबंधन को दो करोड़ चार लाख 30 हजार रुपए की इन्कम हुई है। नाहन में हिमुडा की सबसे अधिक 15 दुकानों के लिए खरीददार मिले हैं। शिमला और सोलन से हिमुडा को अच्छा रिस्पांस नहीं मिला है।

You might also like