इन्वेस्टर्ज मीट के प्रचार में जुटेगी सरकार

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने की समीक्षा, सभी अधिकारियों को दिए निर्देश

शिमला – अब सरकार धर्मशाला में होने वाली इन्वेस्टर्ज मीट के प्रचार-प्रसार में जुटेगी। अभी तक निवेश लाने के लिए प्रयास किए गए हैं, जिसमें आशातीत सफलता सरकार को मिल रही है। इस बड़े कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए अब सरकार इसका व्यापक प्रचार करेगी, ताकि दूसरे राज्यों में भी हिमाचल की इस इन्वेस्टर मीट का बड़ा संदेश जाए। सरकार ने इसके लिए रणनीति बनाई है। शनिवार को शिमला पहुंचने के बाद मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इन्वेस्टर मीट को लेकर समीक्षा बैठक बुलाई। इसमें प्रचार-प्रसार की रणनीति पर चर्चा हुई। धर्मशाला में सात व आठ नवंबर को  ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट होनी है। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को इस मेगा इवेंट के समुचित प्रचार को सुनिश्चित करने के निर्देश दिए, ताकि इच्छुक उद्यमियों के समक्ष राज्य में मौजूद क्षमता, प्राथमिकता क्षेत्र तथा निवेश संभावनाओं को उजागर किया जा सके। उन्होंने सूचना एवं जन संपर्क विभाग को इलेक्ट्रॉनिक, प्रिंट एवं सोशल मीडिया का सदुपयोग करने को कहा, ताकि राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में मौजूद संभावनाओं को उजागर कर इस समारोह को सफल बनाया जा सके। मुख्य सचिव डा. श्रीकांत बाल्दी, अतिरिक्त मुख्य सचिव उद्योग मनोज कुमार, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव संजय कुंडू, सूचना एवं जन संपर्क विभाग के निदेशक हरबंस सिंह ब्रसकोन भी अन्य सहित इस अवसर पर उपस्थित थे। बता दें कि 10 अक्तूबर को सीएम ने हाई पावर कमेटी की बैठक लेनी है, जिसमें दिल्ली से भी अधिकारी पहुंचेंगे। उनसे चर्चा के दौरान देखा जाएगा कि इन्वेस्टर मीट में क्या कुछ किया जाना है और तैयारियां किस तरह की चल रही है। इसके बाद 16 अक्तूबर को धर्मशाला में   अधिकारियों की बैठक होगी, जहां खुद मुख्य सचिव जाएंगे। सभी कमेटियों के चेयरमैन व अन्य सदस्य यहां पर बुलाए गए हैं, जो कि आयोजन से जुड़े हैं। उपचुनाव के बाद पूरी सरकार इस काम में जुट जाएगी।

You might also like