इन्वेस्टर मीट में सरकार की कॉफी टेबल बुक

हिमाचल प्रदेश के हेरिटेज, टूरिज्म और कल्चर की दिखाई जाएगी झलक

शिमला – इन्वेस्टर मीट में आने वाले निवेशकों के टेबल पर सरकार की कॉफी टेबल बुक होगी। इस बुक में निवेशक हिमाचल के बारे में जान सकेंगे। उन्हें इसमें सभी जरूरी बातों की जानकारी मिल जाएगी, वहीं राज्य के हेरिटेज, टूरिज्म व कल्चर  से जुड़ी झलक दिखेगी। इन्वेस्टर मीट के लिए खासतौर पर सरकार ने कॉफी टेबल बुक तैयार की है। इसमें कुछ विभागों ने अपना योगदान दिया है। उद्योग विभाग द्वारा तैयार करवाई गई कॉफी टेबल बुक में हिमाचल के सभी सेक्टर शामिल किए गए हैं। हिमाचल की क्या खासियतें हैं और यहां पर निवेश मित्र माहौल किस तरह से दिया जा रहा है, इसके बारे में विस्तृत जानकारी इस कॉफी टेबल बुक में दर्ज होगी।  इसमें निवेश के पोटेंशियल को भी दिखाया जाएगा, जिसे देखकर निवेशक आसानी से हिमाचल के उन स्थानों को चुन सकते हैं, जहां उन्हें निवेश करना है। उधर, कॉफी टेबल बुक में जहां हिमाचल के बारे में पूरी जानकारी होगी, वहीं दूसरी तरफ निवेशकों के लिए प्रदर्शनी भी लगाई जा रही है। बताया जाता है कि यहां पर 44 स्टॉल लगेंगे, जिनका आबंटन कर दिया गया है। इसमें सरकारी महकमों व सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों को फ्री में जगह दी गई है, जबकि निजी कंपनियों को 10 हजार रुपए प्रति वर्ग मीटर के हिसाब से स्टॉल दिया जा रहा है। यहां पर निजी कंपनियां स्टॉल के लिए आवेदन भी कर रही हैं। माना जा रहा है कि कुछ और स्टॉल भी लग सकते हैं, लेकिन जगह के हिसाब से वह लगेंगे। फिलहाल 44 स्टॉल लगाए जाने का ही इरादा है। इसमें सरकारी विभाग अपने कामकाज को दर्शाएंगे, वहीं निजी कंपनियां यहां पर किए गए निवेश से उन्हें मिल रहे लाभ के बारे में जानकारी देंगी। वह बताएंगे कि किस तरह से हिमाचल में उन्हें निवेश का बेहतरीन अवसर मिला और वह क्या कुछ कर रहे हैं।

अभी तक 76 हजार करोड़ रुपए के एमओयू

सरकार के प्रयास निवेशकों को कितना लुभाएंगे, यह सात व आठ नवंबर को धर्मशाला में होने वाली इन्वेस्टर मीट के बाद ही पता चलेगा। वैसे राज्य में 76 हजार करोड़ रुपए के एमओयू अभी तक अलग-अलग क्षेत्रों में किए जा चुके हैं, जिन्हें अब जमीन पर उतारने का समय नजदीक है।

You might also like