एचआरटीसी पेंशनरों ने मांगा डीए

नालागढ़ – हिमाचल परिवहन सेवानिवृत्त कर्मचारी कल्याण मंच नालागढ़ इकाई ने 20 वर्षीय दो वेतन वृद्धियां व 32 वर्षीय वेतन वृद्धि पेंशन में शीघ्र लगाने और बकाया एरियर का भुगतान करने की पूरजोर मांग उठाई है। बैठक में सेवानिवृत्त कर्मचारियों को पहली जुलाई, 2015 से डीए की लंबित बकाया राशि का जल्द भुगतान करने की भी गुहार लगाई है। सेवानिवृत्त कर्मचारियों ने लीव इन कैशमेंट, डीसीआरजी व अन्य देय भत्तों का भुगतान निश्चित अवधि में करने की भी मांग उठाई है। मंच के प्रधान भीम सिंह की अध्यक्षता में एचआरटीसी वर्कशॉप के समीप दुर्गा माता मंदिर में आयोजित बैठक में विशेष रूप से मंच के प्रदेश सचिव रामस्वरूप चौधरी उपस्थित रहे। बैठक में पेंशनरों की समस्याओं व मांगों पर गहनता से विचार-विमर्श किया गया और विभिन्न प्रस्ताव पारित किए गए। बैठक में हंसराज, दाता राम चौधरी, बाबूराम, हंसराज कैंथ, बचना राम, जरनैल सिंह, हरपाल सिंह, जयपाल, संतोख सिंह, जोगिंद्र सिंह आदि उपस्थित रहे। मंच के प्रधान भीम सिंह ने कहा कि 1-7-2015 से डीए के लंबित बकाया का भुगतान अतिशीघ्र होना चाहिए, ताकि पेंशनरों को राहत मिल सके। उन्होंने कहा कि सेवानिवृत्त कर्मचारियों को 20 वर्ष की सेवा पर दो वेतन वृद्धि व 32 वर्षीय वेतन वृद्धि शीघ्र लगाकर इसका देय लाभ शीघ्र जारी किया जाए। उन्होंने कहा कि सेवानिवृत्त कर्मचारियों को सेवानिवृत्ति के बाद तीन माह के अंदर पेंशन जारी की जाए और लीव इन कैशमेंट, डीसीआरजी व अन्य देय भत्तों का भुगतान निश्चित अवधि में किया जाए। उन्होंने कहा कि सेवानिवृत्त कर्मचारियों को पंजाब की तर्ज पर 65, 70 व 75 वर्ष की आयु पूरी करने पर 5, 10 व 15 फीसदी की दर से अविलंब अदायगी की जाए। मंच के प्रदेश सचिव रामस्वरूप चौधरी ने कहा कि अपना सारा जीवन एचआरटीसी व प्रदेश की जनता की सेवा में लगाने के बाद अंतिम पड़ाव पर सेवानिवृत्त कर्मचारियों की सभी मांगें पूरी होनी चाहिए, जो कि उनका मौलिक, संवैधानिक व मानवाधिकार है, इसलिए सेवानिवृत्त पेंशनरों की पेंशन और अन्य मांगों को जल्द पूरा किया जाए।

You might also like