करवाचौथ पर महंगाई की मार…सुहागिनों का फीका हुआ शृंगार

जीएसटी से कॉस्मेटिक एवं साज सज्जा के सामान के दामों में भारी बढ़ोत्तरी होने से कम खरीददारी कर रहीं महिलाएं

चंबा  – कार्तिक मास में कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को मनाया जाने वाले करवाचौथ के व्रत  को लेकर सुहागिनोें में उत्साह देखने पर ही बन रहा है, लेकिन महंगाई की मार ने सुहागिनों की कमर तोड़ कर रख दी है।  साल दर साल आसमान छू रही वस्तुओं की कीमतों ने गरीब तबके से संंबंध रखने वाली सुहागिनों को टेंशन में डाल दिया है। आग छू रही महंगाई ने हल्के तबके की महिलाओं को महंगे दामों पर मिल रही पंसदीदा वस्तुओं को खरीददने से हाथ पीछे खींचने पड़ रहे हैं। हालांकि इस बार सेब की बंपर फसल के चलते सेब की कीमतों जरूर गिरावट आई है, लेकिन अखरोट सहित अन्य फू्र ट के दामों मंे कटौती की बजाय बढ़ोतरी हो रही है।  उधर, जीएसटी की मार ने महिलाओं के साजो-सज्जा के सामान को भी महंगा कर दिया है। नारियल सहित फैनिया एवं मट्ठियों के अलावा अन्य तरह की पूजा की सामग्री के सामान मंे भी पहले की उपेक्षा वृद्धि दर्ज की गई है।  वहीं, कॉस्मेटिक के सामान की कीमतों मंे भी भारी उछाल आया है, जिससे करवाचौथ व्रत के लिए सामान खरीदने पहुंच रही सुहागिनों के बजट पर महंगाई काफी असर डाल रही है। 

You might also like