घरेलू सरजमीं पर लगातार 11वीं टेस्ट सीरीज जीत बनाया वर्ल्ड रिकार्ड

आस्ट्रेलिया का तोड़ा रिकार्ड; भारत ने दूसरे टेस्ट में द. अफ्रीका को पारी और 137 रन से हरा कब्जाई सीरीज, कोहली मैन ऑफ दि मैच

पुणे – भारत ने दक्षिण अफ्रीका की पहली बार ऐतिहासिक फॉलोआन खेलने के लिए मजबूर किया और गेंदबाजों के दमदार प्रदर्शन से दूसरा टेस्ट चौथे ही दिन रविवार को पारी और 137 रन से जीतकर तीन मैचों की सीरीज में 2-0 की अपराजेय बढ़त बना ली। भारत की दक्षिण अफ्रीका पर यह सबसे बड़ी जीत है और इसके साथ ही भारत ने फ्रीडम ट्रॉफी पर कब्ज़ा कर लिया। भारत ने लगातार घरेलू टेस्ट सीरीज जीतने में आस्ट्रेलिया का रिकार्ड तोड़ दिया है। भारत की 2012-13 से अब तक यह लगातार 11वीं घरेलू टेस्ट सीरीज है और उसने आस्ट्रेलिया का 1994/95-2000/01 तक लगातार दस घरेलू सीरीज जीतने का वर्ल्ड रिकार्ड तोड़ दिया। आस्ट्रेलिया ने 2004-2008/09 तक भी लगातार 10 घरेलू सीरीज जीती थी। भारत ने आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में यह लगातार चौथी जीत हासिल की है। भारत को इस जीत से 40 अंक मिले और अब उसके 200 अंक हो गए हैं। टेस्ट चैंपियनशिप में 200 अंकों का आंकड़ा छूने वाली भारत पहली टीम बन गई है। भारत ने दक्षिण अफ्रीका को दूसरी पारी में 67.2 ओवर में 189 रन पर ध्वस्त कर दूसरा टेस्ट पारी और 137 रन से जीत लिया। तेज गेंदबाज उमेश यादव ने आठ ओवर में 33 रन पर तीन विकेट, लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा 21.2 ओवर में 52 रन पर तीन विकेट, ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने 21 ओवर में 45 रन पर दो विकेट, तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ने पांच ओवर में 17 रन पर एक विकेट और मोहम्मद शमी ने नौ ओवर में 34 रन पर एक विकेट लिया। भारत ने अपनी पहली पांच विकेट पर 601 रन पर घोषित की थी, जिसमें कप्तान विराट कोहली ने नाबाद 254 रन बनाए थे। दक्षिण अफ्रीका की पहली पारी तीसरे दिन के खेल की समाप्ति पर 275 रन पर ही सिमट गई। कप्तान विराट कोहली ने चौथे दिन की सुबह दक्षिण अफ्रीका को फॉलोऑन खेलने पर मजबूर कर दिया। दक्षिण अफ्रीका के लिए यह फॉलोऑन किसी बुरे सपने से कम नहीं था, क्योंकि टीम 11 साल बाद फॉलोऑन खेल रही थी। पिछली बार 2008 में इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स में दक्षिण अफ्रीका को फॉलोऑन खेलना पड़ा था। भारत ने दक्षिण अफ्रीका को पहली बार फॉलोऑन देकर इतिहास बनाया। विराट का कप्तान के रूप में यह 50वां टेस्ट मैच था और उन्होंने इस मैच में दोहरा शतक जड़कर, दक्षिण अफ्रीका को फॉओऑन देकर और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सबसे बड़ी जीत हासिल कर इस मैच को यादगार बना दिया। 

भारत के 200 अंक

भारत ने आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में यह लगातार चौथी जीत हासिल की है। भारत को इस जीत से 40 अंक मिले और अब उसके 200 अंक हो गए हैं। टेस्ट चैंपियनशिप में 200 अंकों का आंकड़ा छूने वाली भारत पहली टीम बन गई है। भारत को इससे पहले वेस्टइंडीज में दो टेस्टों की सीरीज में 160 अंक मिले थे।

भारत की द.अफ्रीका पर सबसे बड़ी जीत

भारत ने इस तरह दक्षिण अफ्रीका पर सबसे बड़ी जीत हासिल की। यह दूसरा मौका है, जब भारत ने दक्षिण अफ्रीका को पारी से हराया है। भारत ने इससे पहले दक्षिण अफ्रीका को फरवरी, 2010 में कोलकाता में पारी और 57 रन से हराया था।

मौके का पूरा फायदा उठाया

पुणे – भारतीय टेस्ट टीम में चोटिल तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की जगह मौके मिलने और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में कुल छह विकेट झटक कर टीम की जीत अहम योगदान देने वाले तेज गेंदबाज उमेश यादव ने रविवार को कहा कि वह इस मौके का पूरा लाभ उठाना चाहते थे। उमेश ने इस मैच में कुल छह विकेट झटके। उन्होंने पहली पारी में तीन और दूसरी पारी में भी तीन विकेट लिए। मैच के बाद उमेश ने कहा, टीम में तेज गेंदबाजों को लेकर काफी अच्छी प्रतिस्पर्धा है, इसलिए मैं जानता था कि यदि मुझे मौका मिलता है, तो मुझे उसे अच्छे से लपकना होगा।

टीम इंडिया घरेलू मैदान पर 2012 के बाद कोई टेस्ट सीरीज नहीं हारी  इंग्लैंड से मिली थी पिछली हार

भारत के पहली पारी में 601/5 रन दक्षिण अफ्रीका ने पहली पारी में 275 और दूसरी पारी में बनाए 189 रन

विराट कोहली ने नाबाद 254

मयंक अग्रवाल ने 108, जडेजा ने 91, रहाणे ने 59 रन बनाए

रांची में करेंगे क्लीन स्वीप

पुणे – भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने मैच के बाद कहा, कप्तान के तौर पर आपको जिम्मेदारी लेनी होती है। मेरी मानसिकता हमेशा टीम के लिए बड़ा स्कोर करने की होती है। मुझे लगता है कि जब आप अपने बजाये टीम के बारे में सोचते हैं, तब आपके ऊपर से दबाव हट जाता है। कप्तान ने कहा, मैं अपने करियर के उस पड़ाव पर हूं, जहां मैं अपने खेल और टीम के लिए स्कोर करने पर खुश हूं।  टेस्ट सीरीज के आखिरी मैच को लेकर उन्होंने कहा कि हम सीरीज को 3-0 से जीतना का पूरा प्रयास करेंगे और आखिरी मुकाबले में भी आराम करने की कोई गुंजाइश नहीं है। उन्होंने कहा कि किसी भी स्तर पर कोई भी आराम नहीं करेगा, यह मेरा आश्वासन है। कप्तान के रूप में पहले 50 टेस्ट में विराट की यह 30वीं जीत है। विराट ने अपना 50वां टेस्ट जीत के जश्न के साथ मनाया। इस मामले में विराट से आगे आस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग 35 और आस्ट्रेलिया के स्टीव वा 37 हैं।

You might also like