चंबा में क्रेच खोलने की योजना

बचत भवन में जिला स्तरीय अनुश्रवण एवं संवीक्षा समिति की बैठक में बोले डीसी विवेक भाटिया

चंबा –डीसी विवेक भाटिया ने कहा कि जिला चंबा में कामकाजी महिलाओं के बच्चों की देखभाल के लिए आंगनबाड़ी केंद्रों के समन्वय से क्रेच खोलने की संभावनाओं पर विचार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि क्रेच खोलने के लिए सबसे पहले स्थान चिन्हित किए जाएंगें। माडल आधार पर पहला क्रेच उपमंडल चंबा में खोलने की योजना है। इनमें केयरटेकर नियुक्त कर बच्चों की सुरक्षा व प्रशिक्षण के लिए विशेष प्रयास किए जाएंगे। वह शुक्त्रवार को बचत भवन में आयोजित जिला स्तरीय अनुश्रवण एवं संवीक्षा समिति की बैठक में बोल रहे थे। विवेक भाटिया ने गांव में मातृ शिशु बैठक में पोषण के बारे में जागरूकता गतिविधियां आयोजित करने की आवश्यकता पर बल देते हुए कहा कि गंभीर रूप से कुपोषित बच्चों तथा बौने बच्चों को संदर्भ सेवाएं प्रदान करने में और दक्षता से कार्य किया जाए। उन्होंने कहा कि समेकित बाल विकास सेवाए कार्यक्रम के अंर्तगत वर्तमान में जिला में संचालित 1495 आंगनबाडी केंद्रों के माध्यम से 6 माह से 6 वर्ष आयुवर्ग के बच्चों, गर्भवती एवं धात्री महिलाओं तथा स्कूल छोड चुकी 11 से 14 साल की किशोरियों को पूरक पोषाहार से लाभांवित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जिला में मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत लाभार्थियों को 38 लाख रूपए की सहायता प्रदान की गई है। उन्होेंने कहा कि पोषण माह के दौरान जिला में 11470 गतिविधियां आयोजित की गईं, जिसमें 2 लाख 24 हजार लोगों ने भागीदारी सुनिश्चित की है। उन्होंने बताया कि सशक्त महिला योजना के तहत जिला के हर गांव में एक सशक्त महिला केन्द्र खोला जाएंगें, जिसमें 10 से 15 महिलाएं होंगी। इसके माध्यम से 19 से 45 वर्ष की महिलाओं को सशक्तिकरण योजनाओं की जानकारी प्रदान की जाएंगी।

You might also like