चेन्नई के एक्सपर्ट खोलेंगे भेद

चंडीगढ़ में गुम हुआ वन मंत्री की पत्नी का अढ़ाई लाख कैश-जेवरों से भरा पर्स

चंडीगढ़   – वन मंत्री गोविंद ठाकुर की पत्नी का यहां सेक्टर-8 की पार्किंग में खड़ी कार से गायब हुए पर्स को लेकर गुरुवार को चेन्नई से आने वाले सिटी बैंक के आईटी एक्सपर्ट भेद खोलेंगे। सोमवार यानी सात अक्तूबर को यहां सेक्टर-8 स्थित मार्केट की पार्किंग में कार ड्राइवर की मौजूदगी में शातिर लड़कों ने कथित तौर पर कार में रखा पर्स चकमा देकर लिया था। उसमें अढ़ाई लाख रुपए, एक नेकलेस और कुछ दस्तावेज थे। वन मंत्री की पत्नी रजनी ठाकुर चंडीगढ़ के सेक्टर-8 स्थित हैड मास्टर सैलून में आई थीं। पर्स चोरी की शिकायत के बाद सेक्टर-3 पुलिस ने केस दर्ज कर लिया। पुलिस सैलून के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज हासिल कर रही है। सेक्टर-3 थाने के एसएचओ जसपाल सिंह ने बताया कि मामले की गंभीरता से जांच की जा रही है। कैमरे की रिकार्डिंग में कुछ तकनीकी समस्या भी आई है। एसएचओ  जसपाल सिंह ने बताया कि जहां कार पार्क की गई थी, उसके आसपास की लोकेशन केवल साथ लगते सिटी बैंक के सीसीटीवी कैमरों में दिखाई दे रही है। उन्होंने बताया कि वारदात वाले समय की रिकार्डिंग देखने को लेकर सीसीटीवी कैमरों की डीवीआर से रिकार्डिंग नहीं मिल सकी। बैंक ने इस बारे में अपने चेन्नई स्थित आईटी विभाग के एक्सपर्ट्स को बुलाया है, जिनके गुरुवार को यहां पहुंचने की उम्मीद है। उन्होंने बताया कि इसके बाद ही वारदात को लेकर कुछ साफ हो पाएगा और मुलाजिमों की पहचान करने में आसानी होगी।

हिमाचल भवन पहुंचने पर हुआ एहसास

वन मंत्री की पत्नी रजनी ठाकुर चंडीगढ़ आई हुई थी और सात अक्तूबर को वह सरकारी गाड़ी में ड्राइवर के साथ सेक्टर-8 में हैड मास्टर सैलून आई थीं। सैलून से जाने के बाद जब वह हिमाचल भवन पहुंचीं, तब पता चला कि उनका पर्स चोरी हो चुका है। ड्राइवर ने बताया कि एक लड़का उनके पास आया था, उसने बोला कि आपकी गाड़ी के बाहर कुछ नोट गिरे हैं। वह गाड़ी से बाहर आया और उसने नोट उठाए। उसने थोड़ी दूर बैठे एक भिखारी को वह पैसे दे दिए। इतने समय तक गाड़ी में कोई नहीं बैठा था। वह दोबारा गाड़ी में आकर बैठ गया। सूचना पुलिस को दी गई, जिस पर पुलिस हिमाचल भवन पहुंची और वन मंत्री की पत्नी से लिखित में शिकायत ली।

You might also like