जीएसटी की बुराई; वित्त मंत्री बोलीं, न दें गाली

पुणे – आमतौर पर शांत और चेहरे पर मुस्कान के साथ बात करने वालीं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण शुक्रवार को गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (जीएसटी) की बुराई पर बिफर पड़ीं। इस दौरान उन्होंने जीएसटी में खामियों को स्वीकार करते हुए कहा कि यह देश का कानून है और इसे गाली नहीं दी जा सकती है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण शुक्रवार को पुणे में कारोबारियों और उद्यमियों से मुलाकात के दौरान सवालों का जवाब दे रहीं थीं। इस दौरान एक कारोबारी जीएसटी पर खरी-खोटी सुनाने लगे। कारोबारी ने कहा कि जीएसटी को गुड एंड सिंपल टैक्स होना चाहिए था, लेकिन इसमें कमियों की वजह से हर कोई सरकार को कोस रहा है। पहले तो वित्त मंत्री ध्यान से सुनती रहीं, लेकिन लगातार आलोचना के बाद उनका सब्र टूट गया। वित्त मंत्री ने कहा कि हम जीएसटी को गाली नहीं दे सकते हैं। यह संसद और देश की सभी विधानसभाओं से पास हुआ है। इसमें कमियां हो सकती हैं। हो सकता है कि इससे आपको दिक्कतें हुई हों, लेकिन मुझे माफ कीजिए, यह अब देश का कानून है।

You might also like