तीन उद्योगों को नोटिस जारी कर जवाब तलब

बीबीएन विकास प्राधिकरण ने टीसीपी नियमों की अवहेलना पर की कार्रवाई

बद्दी – बीबीएन विकास प्राधिकरण ने टीसीपी नियमों की अवहेलना पर तीन उद्योगों को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है। जबाब संतोषजनक न पाए जाने की स्थिति में उक्त उद्योगों पर बिजली कनेक्शन कटने की गाज गिर सकती है। दरअसल ग्रामीणों की शिकायत के बाद प्राधिकरण हरकत में आया है, हालांकि ग्रामीणों ने प्राधिकरण को उक्त उद्योगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। बतातें चलें कि भटौलीकलां के बाशिंदो ने यह मुद्दा उठाया था कि बीबीएनडीए ग्रामीणों को टीसीपी एक्ट का पाठ पढ़ाता है और सभी नियमों की पालना को मजबूर किया जाता है। अगर नियमों की पालना में कहीं कोई थोड़ी बहुत कमी रह जाती है तो विभाग ग्रामीणों को एनओसी देने से इंकार कर देता है। लेकिन बड़े बड़े उद्यमी टीसीपी नियमों की सरेआम अवहेलना करते हैं लेकिन उनपर कार्रवाई से हाथ पीछे खींच लिए जाते हैं। जिसके बाद ग्रामीणों ने भटौलीकलां स्थित तीनों उद्योगों की शिकायत विभाग को सौंपी थी। शिकायत में ग्रामीणों ने विभाग को अवगत करवाया था कि रिच ऑफसेट ने टीसीपी नियमों को दरकिनार कर सड़क के बिलकुल साथ दिवार दे दी और गेट निकाल दिया। वहीं साथ लगते उद्योग जगमा हर्बल ने रिच ऑफसेट की देखादेखी सड़क के बिल्कुल साथ दीवार देने का काम शुरू कर दिया। इतना ही नहीं दोनों उद्योगों ने टीपीसी नियमों को दरकिनार कर न तो उद्योगों के चारों ओर सैट बैक छोड़ा और न ही अन्य नियमों की पालना की। ग्रामीणों ने शिकायत के बाद विभाग ने 3 बार मौके का मुआयना किया और ग्रामीणों की शिकायत सही पाई गई। जिसके बाद बीबीएनडीए ने तीनों उद्योगों नोटिस जारी कर जबाबदेही मांगी है और स्थिति स्पष्ट न करने की स्थिति में बिजली के कनेक्शन काटने की भी चेतावनी दी है। अतिरिक्त सीईओ बीबीएनडीए सुधीर शर्मा ने बताया कि टीसीपी एक्ट  के तहत दोनों उद्योगों को कारण बताओं नोटिस जारी कर जबाब तलब किया हैं।

You might also like