दिवाली के लिए दुल्हन की तरह सजे बाजार

पर्व को लेकर लोगों ने सजाई अस्थायी दुकानें; अच्छे कारोबार की उम्मीद, मिट्टी के बरतन आकर्षण का केंद्र

धर्मशाला –हिंदू धर्म के सबसे बड़े त्योहार दीपावली के लिए धर्मशाला सहित जिला कांगड़ा में तैयारियां जोरों पर चल रही हैं।  27 अक्तूबर को दिवाली पर्व धूमधाम से मनाने की तैयारी का रंग बाजारों में भी चढ़ने लगा है। एक ओर जहां रोशनी के इस पर्व पर घरों की साज-सज्जा की सामग्री से बाजार रंगीन होने लगे हैं। वहीं, दूसरी ओर दिवाली के लिए मिट्टी से सामान बनाने वाले कुम्हारों ने भी अपनी अस्थायी दुकानें सजा दी हैं। कुम्हार मिट्टी से निर्मित सामग्रियों को लेकर बाजार पहुंच चुके हैं। वैसे इस पर्व के लिए खरीददारी का दौर अभी उम्मीद के अनुसार धीमा है।  धर्मशाला के अलावा जिला के सभी बाजारों में चहल-पहल तेज हो गई है। धर्मशाला में चुनावों के चलते अभी बाजारों में इतनी चहल पहल नहीं है, लेकिन लोग घरों में तैयारियों में जुटे हुए हैं। चुनावों के बाद जैसे-जैसे त्योहार नजदीक आएगा, वैसे ही बाजार में रौनक दिखने लगेगी। इस दिवाली पर खरीददारी के लिए विशेष सामग्री दुकानों के बाहर सजने लगी है। कई तरह के नए गिफ्ट आइट्म और दूसरी मनमोहक चीजें बाजारों में निकलने से लोगों का ध्यान खींचने लगा है। घरों को चमकाने के लिए पेंट की दुकानों पर भी अच्छी भीड़ देखने को मिल रही है। दिवाली पर घर और आंगन की सुंदरता में चार चांद लगाने रंगोली की भी महत्त्वपूर्ण भूमिका रहती है, जिसके लिए बाजार में हर तरह के रंगोली उपलब्ध है। फूलों और एक से बढ़कर एक कलाकृतियों का रेडीमेड सांचा उपलब्ध है, जिसकी खूब बिक्री हो रही है।

 

 

You might also like