नियोजित विकास पर खर्चे जाएंगे 50 करोड़

मंडी –अतिरिक्त उपायुक्त आशुतोष गर्ग ने कहा कि मंडी जिला के सनोर क्षेत्र की छह पंचायतों को श्यामा प्रसाद मुखर्जी राष्ट्रीय रूर्बन मिशन में शामिल किया गया है। मिशन के तहत एक क्लस्टर के रूप में ग्राम पंचायत औट, किगस, नंगवाई, झीड़ी, टकौली और कोटाधार में नियोजित विकास गतिविधियों पर 50 करोड़ रुपए व्यय किए जाएंगे। इन पंचायतों में यह धनराशि तीन चरणों में खर्ची जाएगी। अतिरिक्त उपायुक्त ने शुक्रवार को मंडी में श्यामा प्रसाद मुखर्जी राष्ट्रीय रूर्बन मिशन की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए यह जानकारी दी। आशुतोष गर्ग ने कहा कि इन पंचायतों में मिशन के तहत ठोस एवं तरल कूड़ा-कचरा प्रबंधन, स्ट्रीट लाइट्स, सड़कें, रास्ते, नालियां, पेयजल आपूर्ति, किसान प्रशिक्षण कार्यशालाएं और नेचरपार्क विकसित इत्यादि कार्य किए जाएंगे।  मिशन के तहत 4.50 करोड़ की पहली किस्त जारी की जा चुकी है, जिसे इन पंचायतों में विभिन्न विकास कार्यों पर व्यय किया जा रहा है। उन्होंने संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए कि मिशन के तहत जो कार्य पूर्ण हो चुके हैं, उनका उपयोगिता प्रमाण पत्र शीघ्र उपलब्ध करवाएं और आबंटित राशि को तीन माह के भीतर विकास कार्यों पर व्यय किया जाए। बैठक मंे परियोजना अधिकारी डीआरडीए नवीन शर्मा, उपनिदेशक उच्च शिक्षा अशोक शर्मा, चयनित पंचायतों के प्रधानों सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

You might also like