नोटबंदी के खिलाफ थे अभिजीत

नोबेल जीतने वाले भारतीय अर्थशास्त्री ने पेश किया था कांग्रेस की ‘न्याय’ योजना का खाका

नई दिल्ली – अप्रैल-मई में हुए लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने गरीबों के लिए जिस बेहद चर्चित ‘न्याय’ योजना का खाका पेश किया था, उसके शिल्पकार थे 2019 के इकोनॉमिक्स में नोबेल पुरस्कार जीतने वाले अभिजीत विनायक बनर्जी। साथ ही बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अपने शासनकाल के सबसे बड़े फैसले नोटबंदी की आलोचना की थी। बनर्जी को नोबेल मिलने के ऐलान के बाद कांग्रेस ने भी उन्हें बधाई दी है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने तो बनर्जी को बधाई के बहाने मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों पर तंज कसते हुए उन्हें गरीबी बढ़ाने वाला मोदीनॉमिक्स करार दिया है। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने भी बनर्जी को यह कहकर बधाई दी है कि उनके बनाए मॉडल से प्रेरित होकर उनकी सरकार ने राजधानी के स्कूलों की दशा बदली है। कांग्रेस ने अपने आफिशियल ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया कि नोबेल पुरस्कार 2019 जीतने के लिए अभिजीत बनर्जी को बधाई। गरीबी दूर करने के लिए किए गए उनके अविश्वसनीय काम पर देश को गर्व है। कांग्रेस पार्टी द्वारा पेश किए गए पथप्रवर्तक न्याय कार्यक्रम के महत्त्वपूर्ण सलाहकार थे यह प्रख्यात अर्थशास्त्री। कांग्रेस और दूसरी विपक्षी पार्टियों की तरह अभिजीत बनर्जी भी नोटबंदी के कटु आलोचक हैं। 2016 में मोदी सरकार ने नोटबंदी का ऐलान किया था। बनर्जी के मुताबिक नोटबंदी से शुरुआत में जिस नुकसान का अंदाजा लगाया गया था, असल में यह उससे बहुत ज्यादा होगा। हार्वर्ड यूनिवर्सिटी की नम्रता काला के साथ संयुक्त तौर पर लिखे गए पेपर में उन्होंने नोटबंदी की आलोचना की थी। संयुक्त रूप से लिखे पेपर में उन्होंने कहा था कि इसका सबसे ज्यादा नुकसान असंगठित क्षेत्र को होगा जहां भारतीय श्रम क्षेत्र में 85 प्रतिशत या उससे ज्यादा लोग रोजगार पाते हैं।

बधाई के बहाने राहुल का मोदीनॉमिक्स पर तंज

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी अभिजीत बनर्जी को बधाई दी है। 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए अपने मैनिफेस्टो में कांग्रेस ने न्याय का वादा किया था, उस वक्त राहुल गांधी ही पार्टी के अध्यक्ष थे। गांधी ने बनर्जी को बधाई देने के बहाने मोदी सरकार पर तीखा हमला बोलते हुए ट्वीट किया कि अर्थशास्त्र का नोबेल जीतने के लिए अभिजीत बनर्जी को बधाई। अभिजीत ने न्याय की रूपरेखा बनाने में मदद की थी, जिसके पास गरीबी को खत्म करने और भारतीय अर्थव्यवस्था को ताकत देने की क्षमता थी। उसकी जगह पर अब हमारे पास मोदीनॉमिक्स है, जो अर्थव्यवस्था को नष्ट कर रही है और गरीबी को बढ़ावा दे रही है।

बनर्जी के मॉडल पर चलकर बदली सरकारी स्कूलों की सूरत

आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी नोबेल जीतने के लिए अभिजीत बनर्जी को बधाई दी है। उन्होंने दावा किया है कि बनर्जी के मॉडल पर ही उनकी सरकार ने दिल्ली के सरकारी स्कूलों की स्थिति बदलने में कामयाब हुई है। केजरीवाल ने ट्वीट किया कि हर भारतीय के लिए बड़ा दिन। जाने-माने अर्थशास्त्री अभिजीत बनर्जी को इस साल के लिए अर्थशास्त्र के नोबेल विजेताओं में आने के लिए हार्दिक बधाई। गरीबी उन्मूलन पर किए गए काम को सर्वोच्च स्तर पर मान्यता मिली।

You might also like