पांच दिन बाद भी जनजीवन अस्त-व्यस्त

सतौन के कच्चीढांग में बहाल नहीं हो पाया नेशनल हाई-वे, जनता की कम नहीं हुई मुश्किलें

पांवटा साहिब-बद्रीपुर-गुम्मा एनएच पर कच्ची ढांग के पास एनएच को बंद हुए पांच दिन हो चुके हैं। यातायात बहाल न होने के कारण जनजीवन पूरी तरह से अस्त व्यस्त हो चुका है। एनएच प्राधिकरण और लोनिवि के वैकल्पिक मार्ग के प्रयास भी रंग लाते प्रतीत नही हो रहे हैं। क्योकि इन वैकल्पिक मार्ग से बड़े वाहन और बसें नही जा पा रही है। बसें अभी भी गिरि नदी से होकर गुजर रही है जिससे सवारियों के जान पर भी आफत बन रही है। छोटे वाहन भी नदी मे फंस रहे है। मोटरसाइकिल बह रही है। गुरुवार को भी मौके पर कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला। मौके पर करीब एक दर्जन मोटरसाइकिल नदी के बहाव के चपेट मे आई। जिनको पानी से एलएंटी मशीन ने बाहर निकाला। इसी प्रकार सवारियों से भरी दो बसें भी बीच नदी मे फंस गई। मौके पर नदी से मुख्य सड़क पर पंहुचे एक बाईक सवार ने बताया कि इससे बुरा वक्त शायद ही उसने अपनी जिंदगी मे देखा हो। पहले नदी के रास्ते मुष्किल से बाइक पार करवाई। बाइक के इंजन मे पानी भर गया जिस कारण बाइक स्टार्ट नही हो पाई। करीब पांच किलोमीटर की खड़ी चढ़ाई मे उसने मुश्किल से मोटरसाईकिल को धक्का देकर मुख्य सड़क तक पंहुचाया। पांच दिन मे तीसरी बार मौके पर पंहुचे एंटी क्रप्शन एंड क्राइम कंटरोल फोर्स के प्रदेष अध्यक्ष नात्थु राम चौहान गुरुवार को भी लोगों की मदद करते दिखाई दिए।  उधर एनएच प्राधिकरण के अधिशाषी अभियंता अनिल शर्मा ने बताया कि एनएच को बहाल करने के प्रयास जारी है।

You might also like