पाक में बंधक बन गए थे श्रीलंकाई खिलाड़ी

कोलंबो – श्रीलंका के खिलाफ वनडे और टी-20 सीरीज की मेजबानी के बाद पाकिस्तान भले ही अपनी पीठ थपथपा रहा हो, लेकिन अब धीरे-धीरे इस दौरे की हकीकत सामने आ रही है। इस दौरे पर श्रीलंकाई खिलाडि़यों को बंधकों जैसा बनाकर रखा गया था, साथ ही टीम को कई परेशानियों का सामना भी करना पड़ा। यह सनसनीखेज खुलासा श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष शम्मी सिल्वा ने किया है। पाकिस्तान में टीम के साथ हुए व्यवहार को लेकर श्रीलंकाई बोर्ड काफी नाराज है। श्रीलंका के खिलाफ 3-3 मैचों की वनडे और टी-20 सीरीज के सफल आयोजन का पाकिस्तान ने ढिंढोरा पीटा। 10 सालों बाद कोई बड़ी टीम पाकिस्तान में द्विपक्षीय सीरीज खेलने पहुंची थी। सुरक्षा कारणों से श्रीलंका के 10 प्रमुख खिलाडि़यों ने पाकिस्तान का दौरा करने से इनकार कर दिया था। इसके बाद श्रीलंकाई बोर्ड ने युवा खिलाडि़यों की टीम पाकिस्तान भेजी। श्रीलंका को इस दौरे में तीन मैचों की वनडे सीरीज 0-2 से हार का सामना करना पड़ा, तीन मैचों की टी-20 सीरीज में उसने मेजबान टीम का सफाया कर 3-0 से सीरीज जीतीं। साल 2009 में श्रीलंकाई टीम पर आतंकी हमले हुआ था। ऐसे में पाकिस्तान ने कड़ी सुरक्षा व्यव्यस्था का वादा कर श्रीलंका को अपने यहां दौरे पर बुलाया था। दौरा खत्म होने के बाद श्रीलंकाई खिलाडि़यों, टीम प्रबंधन और अधिकारियों ने सुरक्षा इंतजामों के लिए पाकिस्तान को धन्यवाद भी दिया था, लेकिन अब इस दौरे की हकीकत सामने आ रही है। श्रीलंकाई क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष शम्मी सिल्वा ने दौरे पर उनके खिलाडि़यों से हुए व्यवहार पर नाराजगी जताई है। उन्होंने बताया कि पूरे दौरे पर श्रीलंकाई खिलाडि़यों को होटल के अंदर ही किसी बंधक की तरह रहना पड़ा। किसी खिलाड़ी को होटल से बाहर कहीं भी जाने की इजाजत नहीं दी गई। खिलाड़ी केवल मैच के दौरान होटल से बाहर निकल पाए। सिल्वा ने कहा कि सुरक्षा व्यवस्था का हवाला देते हुए श्रीलंकाई टीम को होटल में ही रहना पड़ा। मैं तीन से चार दिन कमरे में रहकर परेशान हो गया था। मैं निराश हो गया था। यही हाल खिलाडि़यों को भी रहा। खिलाडि़यों को रिलैक्स होने के लिए दूसरी गतिविधियां भी जरूरी है, लेकिन पाकिस्तान में वो कुछ नहीं हो पाया। फिलहाल श्रीलंका को आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में पाकिस्तान के साथ 3 मैचों की सीरीज खेलनी है। सिल्वा का कहना है कि खिलाडि़यों और स्टाफ से बात करने के बाद ही कोई फैसला लिया जाएगा। टेस्ट सीरीज हालांकि संयुक्त अरब अमीरात में खेली जाएगी, लेकिन पाकिस्तान चाहता है कि सीरीज उसके यहां खेली जाए।

You might also like