प्रदेश में मेहमानों के लिए एक्स्ट्रा उड़ानें

शिमला  – इन्वेस्टर्स मीट के मेहमानों के लिए एलाइंस एयर की धर्मशाला के लिए अतिरिक्त उड़ानें होंगी। राज्य सरकार के प्रस्ताव पर एलाइंस एयर ने छह से नौ नवंबर के बीच अतिरिक्त उड़ानों के लिए हामी भर दी है। इसके लिए एलाइंस एयर ने धर्मशाला-दिल्ली के बीच प्रति उड़ान के लिए 11 लाख रुपए की मांग की है। इसके तहत छह नवंबर को एलाइंस एयर की फ्लाइट दिल्ली से चंडीगढ़ होकर गगल एयरपोर्ट पर लैंड करेगी। इसी तरह नौ नवंबर को धर्मशाला से एलाइंस एयर चंडीगढ़ के लिए उड़ान भरेगा और फिर दिल्ली की फ्लाइट होगी। उल्लेखनीय है कि जयराम सरकार की सबसे महत्त्वाकांक्षी इन्वेस्टर मीट के लिए धर्मशाला में तैयारियां शुरू हो गई हैं। निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार इस इन्वेस्टर मीट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह सहित देश की कई बड़ी हस्तियां शामिल हो रही हैं। इस कारण अब इन्वेस्टर मीट में दुनिया भर के बड़े औद्योगिक घरानों के शिरकत करने की उम्मीद है। लिहाजा देश-विदेश से चंडीगढ़ और दिल्ली पहुंचने वाले मेहमानों के लिए राज्य सरकार अतिरिक्त हवाई उड़ानों के पक्ष में हैं। इसके चलते सरकार ने एलाइंस एयरवेज से दिल्ली-धर्मशाला वाया चंडीगढ़ छह और नौ नवंबर को अतिरिक्त उड़ानों का प्रस्ताव भेजा है। धर्मशाला में मेहमानों की आवाजाही के लिए एक सौ के करीब लग्जरी वाहनों की बुकिंग की जा रही है। एयरपोर्ट से धर्मशाला तक मेहमानों को इनोवा कारों में लाया जाएगा। वहीं यूरोपियन उद्योग जगत की सबसे बड़ी संस्था ऐसोचैन के प्रमुख विकास चतुर्वेदी शिमला पहुंच गए हैं। राज्य सरकार के आग्रह पर नीदरलैंड से हिमाचल पहुंचे विकास चतुर्वेदी ने शनिवार को राज्य सरकार के उच्च अधिकारियों से बैठक की। उन्होंने सरकार को आश्वासन दिया है कि धर्मशाला में प्रस्तावित इन्वेस्टर मीट के लिए वह यूरोप के 12 उद्योगपतियों का प्रतिनिधिमंडल लाएंगे। राज्य सरकार इस प्रस्ताव को इन्वेस्टर मीट के लिए बड़ी उपलब्धि मान रही है।

चौपर भी सेवा में

चाटर्ड प्लेन के अलावा राज्य सरकार मेहमानों को लाने के लिए अपना चौपर भी इस्तेमाल करेगी। इसके चलते उद्योग विभाग से विशेष अतिथियों की सूची मांगी गई है। इसके तहत चंडीगढ़ तथा अमृतसर लैंड करने वाले वीवीआईपी को धर्मशाला लाने के लिए हेलिकाप्टर की सुविधा दी जाएगी। जाहिर है कि प्रधानमंत्री और केंद्रीय गृह मंत्री के प्रस्तावित दौरों के कारण राज्य सरकार को हवाई उड़ानों के लिए उड्डयन मंत्रालय से विशेष अनुमति लेनी पड़ रही है।

धर्मशाला में 500 और रूम रिजर्व

इन्वेस्टर मीट में विशेष अतिथियों और निवेशकों की संख्या में बढ़ोतरी की संभावना के चलते सरकार ने धर्मशाला में 500 और रूम रिजर्व करने को कहा है। इससे पहले राज्य सरकार ने सरकारी गेस्ट हाउस, रेस्ट हाउस व सर्किट हाउस को छोड़कर 750 रूम्स होटल के बुक किए हैं। अतिथियों का आंकड़ा बढ़ने  के कारण अब होटल के 500 और रूम बुक करने के आदेश दिए गए हैं।

You might also like