फिनाले में एंट्री को हुनरबाज बेताब

चाय नगरी में चल रहे कार्यक्रम के दौरान चंबा, कुल्लू, हमीरपुर, बिलासपुर और ऊना में दिखा डांस का महामुकाबला

पालमपुर — सेमीफाइनल के दूसरे दिन डांस का तड़का लगाने के बाद गणमान्यों के साथ कैमरे में कुछ यूं कैद हुए प्रतिभागी

पालमपुर – प्रदेश के मीडिया ग्रुप ‘दिव्य हिमाचल’ द्वारा प्रायोजित ‘डांस हिमाचल डांस सीजन-7’ के सेमीफाइनल में सोमवार के दिन ऊना, हमीरपुर, बिलासपुर, चंबा व कुल्लू के डांस कला प्रेमियों ने पूरा दमखम दिखा कर फिनाले में एंट्री हेतु अपना दावा पेश किया है। सेमीफाइनल के दूसरे दिन ऐसा धमाल मचा की हर कोई इन डांस कला प्रेमियों के हुनर का मुरीद हो गया। हालांकि सोमवार को भी भारी संख्या में प्रतिभागी केएलबी कालेज के हरिकिशन हाल में पहुंचे हुए थे।  सबसे अधिक संख्या में हमीरपुर के प्रतिभागियों ने इस महा मुकाबले में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई, जबकि  ऊना व बिलासपुर के डांस कला प्रेमियों ने भी बड़ी संख्या में अपना टैलेंट बखूबी दर्शाया। सोमवार सुबह ही भारी संख्या में अभिभावक  भी अपने बच्चों सहित केएलबी  डीएवी कालेज के प्रांगण में पहुंचे हुए थे। समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर जानी मानी रॉयल अकादमी के मैनेजिंग डायरेक्टर प्रकाश काजलेट ने उपस्तिथि दर्ज कराई। मुख्य अतिथि को स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया गया।

नन्हें कलाकारों ने नचाए दर्शक

इस मेगा इवेंट के सेमीफाइनल में कुल्लू के नन्हे अनिरुद्ध गौतम ने रैप सांग मैं तेरा डाका, तू मेरी गोका सांग पर खूब धमाल मचाया। अनन्या गुप्ता ने श्तुम्हारी महफिल में आ गए हैं, नृत्य पेश करके खूब वाहवाही लूटी। ऋतिशा का क्लासिकल डांस की हॉल में खूब सराहना हुई। नैनिका गुप्ता ने लड़की आंख मारे की प्रस्तुति पर खूब तालियां बटोरी।  ऊना की आभा शर्मा ने मेरे ढोलना पर जमकर नृत्य कर अपनी अनूठी कला को उजागर किया। तेजस के ब्रेक डांस की खूब सराहना हुई। अन्वेषा ने निर्णायक मंडल के जज विकल और नीतीश ठाकुर के साथ जमकर डांस कर दर्शकों का भी खूब मन बहलाया। पुष्प संधू ने ठेठ पंजाबी गीत पर अपनी दमदार प्रस्तुति दी। बिलासपुर की शनवी गौतम मेरे ढोलना तू की शानदार परफॉर्मेंस पर खूब तालिया बजी। ‘लेके पहला पहला प्यार’ की प्रस्तुति प्रेरणा ठाकुर द्वारा पेश की गई।

सीनियर्स का डांस देख हर कोई दंग

सीनियर ग्रुप में पायल ने चोली के पीछे सांग पर दमदार प्रस्तुति दी। सुनीत ने कभी आर कभी पार गीत की धुन पर मंच पर खूब थिरकीं। हमीरपुर की तान्या ने टिप टिप बरसा पानी की धुन पर अपनी बेहतरीन परफॉर्मेंस दी। बिलासपुर के स्टार डांस ग्रुप के बच्चों ने भी डांस कला के जौहर दिखाए। हिम अकादमी  बच्चों ने भी ग्रुप डांस  में राधे राधे की क्लासिकल धुन पर अपनी धाक जमाई। ईशाना द्वारा पेश आइटम छोरी लचके कमरिया की खूब सराहना की गई।

अपनी बारी का इंतजार करते प्रतिभागी

 अभिभावकों को भाये ‘दिव्य हिमाचल’ के सामाजिक कार्य

पालमपुर  – सोमवार को आयोजित इस सेमीफाइनल में बाहरी जिलों से आए अभिभावकों ने ‘दिव्य हिमाचल’ द्वारा प्रदान किए इस मंच की खूब सराहना की। अभिभावकों ने कहा कि ‘दिव्य हिमाचल’ ही हिमाचल एक एकमात्र ऐसा मीडिया ग्रुप है, जिन्होंने हिमाचली बच्चों के भविष्य का खयाल है। उन्होंने कहा कि दिव्य हिमाचल ने न सिर्फ हिमाचल के डांस के शौकीन बच्चो को यह मंच दिया बल्कि गाने के शौकीन बच्चों को गायन का महामंच, मॉडलिंग की शौकीन लड़कियों को ‘मिस हिमाचल’ जैसा महामंच प्रदान किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के हर परिवार के हर सदस्य को प्रदेश के अग्रणी मीडिया ग्रुप ‘दिव्य हिमाचल’ का उनके बच्चों को विभिन्न प्रकार के मंच प्रदान करने के लिए तहे दिल से  धन्यवाद करना चाहिए।

कानों में इयरफोन लगा कर प्रैक्टिस

पालमपुर – डांस हिमाचल डांस सीजन-7’ के सेमीफाइनल में पहुंचे युवाओं का जुनून सिर चढ़ कर बोल रहा है। मंच पर अपने नाम की घोशणा से पहले एक-एक पल का उपयोग करते प्रतिभागी केएलबी कालेज के प्रांगण में सबके आकर्शण का केंद्र बन रहे हैं। कोई कानों में इयरफोन लगाकर अपने डांस की प्रैक्टिस कर रहा है तो कोई अपने साथियों को बेहतर प्रस्तुति के लिए प्रोत्साहित करता दिख रहा है। यह डांस हिमाचल डांस का क्रेज ही है, जिसके फाइनल तक पहुंचने के लिए प्रतिभागी कोई कमी नहीं रखना चाहते। दूर-दूर के जिलों से सुबह-सवेरे पहुंच रहे प्रतिभागियों के चेहरों पर थकान का कोई निषान नहीं है, जज्बा सिर्फ निर्णायकों की कसौटी पर खरा उतर कर फाइनल में जगह बनाने का है। सब प्रतिभागी अच्छी तरह जानते हैं कि ‘दिव्य हिमाचल’ ‘डांस हिमाचल डांस’ के विजेता बनकर उनके लिए मशहूर कोरियोग्राफर टेरेंस लुइस की अकादमी के दरवाजे स्वतः ही खुल जाएंगे।

प्रतिभागियों को परखना रहेगा सबसे मुश्किल काम

पालमपुर   – पालमपुर में चल रहे ‘दिव्य हिमाचल’ ग्रुप के तीन दिवसीय डांस हिमाचल डांस सीजन-7 के सेमीफाइनल में दूसरे दिन सोमवार को नितेश ठाकुर तथा वकल कश्यप ने बतौर जजेज पांच जिलों चंबा, हमीरपुर, कुल्लू, ऊना और बिलासपुर के प्रतिभगियों की प्रतिभा को परखा। नितेश ठाकुर जो कुल्लू में दो डांस अकादमी भी चला रहे हैं, ने बताया कि उन्होंने ‘दिव्य हिमाचल’ द्वारा प्रदान किए गए प्लेटफार्म से ही इस क्षेत्र में आने का मौका मिला था क्योंकि वह ‘डांस हिमाचल डांस के सीजन 3’ में रनर अप रहे थे। नितेश ने कहा कि आज वह ‘दिव्य हिमाचल’ के इतने कायल हो चुके हैं कि हर जगह छात्र-छात्राओं को दिव्य हिमाचल द्वारा दिए जा रहे विभिन्न इवेंट्स के लिए प्लेटफार्म में भाग लेने के लिए प्रेरित करते रहते हैं ताकि जो हुनर छिपा है, वह बाहर आ पाए तथा पूरे विश्व में धाक जमा पाए।

You might also like