बिंदल-महेंद्र सिंह के चुनाव प्रचार पर लगे रोक

कांग्रेस ने विधानसभा अध्यक्ष-आईपीएच मंत्री के खिलाफ चुनाव आयोग से की शिकायत

शिमला – कांग्रेस पार्टी ने राज्य चुनाव आयोग के ढुलमुल रवैए पर हैरानी जताते हुए कहा है कि अगर उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष राजीव बिंदल और आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह के चुनाव प्रचार पर तुरंत रोक नहीं लगाई, तो इसकी एक शिकायत राष्ट्रपति को भेजी जाएगी। प्रदेश चुनाव आयोग की निष्पक्षता पर संदेह व्यक्त करते हुए पार्टी ने कहा है कि ऐसा लगता है कि प्रदेश चुनाव आयोग इस समय भारी दबाव में काम कर रहा है। कांग्रेस महासचिव रजनीश किमटा ने कहा कि पच्छाद विधानसभा क्षेत्र में जिस प्रकार आदर्श चुनाव आचार संहिता का खुलेआम उल्लंघन किया जा रहा है, वह चुनाव आयोग या फिर इनके पर्यवेक्षकों द्वारा अनदेखा किया जा रहा है। आयोग को देश के लोकतंत्र की रक्षा के लिए संवैधानिक कर्त्तव्य का पूरी निष्ठा के साथ निर्वहन करना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रदेश में पहली बार किसी विधानसभा अध्यक्ष से आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन पर जवाब मांगा गया है। इसके विपरीत मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर उनका पूरा बचाव कर रहे हैं। मुख्यमंत्री भी चुनाव आयोग के कार्यों और उनके अधिकारों का हनन करने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा प्रदेश में नई परंपराएं शुरू कर प्रदेश की साफ-सुथरी राजनीति दूषित करने की कोशिश कर रही है। कांग्रेस भाजपा के किसी भी षड्यंत्र को कभी सफल नहीं होने देगी।

अतिरिक्त मुख्य चुनाव अधिकारी को ज्ञापन

प्रदेश कांग्रेस ने सोमवार को एक ज्ञापन शिमला में राज्य के अतिरिक्त मुख्य चुनाव अधिकारी को सौंपा। प्रदेश कांग्रेस सचिव हरि कृष्ण हिमराल के नेतृत्व में वेद प्रकाश ठाकुर, बलदेव ठाकुर, चंद्रशेखर शर्मा, यशवंत छाजटा, सुरेश नागटा, शकत राम कश्यप, विराज शर्मा के अतिरिक्त कई अन्य पार्टी पदाधिकारी साथ थे। प्रतिनिधिमंडल ने मुख्य चुनाव अधिकारी से कांग्रेस की उन शिकायतों पर जल्द कार्रवाई करने का आग्रह करते हुए कहा कि प्रदेश में बड़े पैमाने पर सत्तारूढ़ दल भाजपा आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन कर रही है। उन्होंने इस बात पर हैरानी जताई कि चुनाव ऑब्जर्वर भी इस पर कोई खास तवज्जो नहीं दे रहे हैं, जो चिंता का विषय है।

You might also like