बिहार में बाढ़ जैसे हालात क्यों?

-डा. राजन मल्होत्रा, पालमपुर

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार उस समय तिलमिला गए जब उन्हें पूछा गया कि बिहार के पटना में दो-तीन दिन की वर्षा में इतना पानी खड़ा हो गया कि घर से निकलना मुश्किल हो गया है और सारे पटना में गंदा पानी खड़ा हो गया है। लोगों को पीने के पानी और खाने के सामान की समस्या हो गई है। पीने के पानी की इतनी समस्या हो गई है कि बिसलेरी का पानी कम पड़ गया है। सच्चाई तो सच्चाई है और नीतीश कुमार इसे झुठला नहीं सकते कि पटना को करोड़ों रुपए उपलब्ध होने पर भी यह दुर्दशा हुई है। नीतीश कुमार के शासन में पटना जो कि बिहार की राजधानी है, कल भी डूबा था, आज भी डूबा है।

You might also like