मां और नवजात को मिला ठिकाना

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने पर सामने आया मामला, जिला प्रशासन ने नारी निकेतन में भेजा

शिमला –राजधानी शिमला के ओल्ड बस स्टैंड पर नवजात शिशु के साथ भटक रही एक मां को ठिकाना मिल गया। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद मामला जिला ्रप्रशासन तक पहुंचा। प्राप्त जानकारी के मुताबिक एक नवजात बेटी व उसकी मां ओल्ड बस स्टैंड पर दयनीय हालत में थीं। इस नेक कार्य में सुंदरनगर के रहने वाले टेकचंद ठाकुर ने सेतु का कार्य किया है। टेकचंद ने उमंग फाउंडेशन के संस्थापक अजय श्रीवास्तव से संपर्क किया। शहरी क्षेत्र की एसडीएम नीरज चांदला से संपर्क हुआ। इस पर एसडीएम ने त्वरित कार्रवाई करते हुए नवजात बच्चे व उसकी मां को नारी निकेतन मशोबरा भिजवा दिया। टेकचंद ने अपनी फेसबुक पोस्ट में लिखा कि उन्हें नवजात शिशु व उसकी मां की दयनीय स्थिति की जानकारी अजय ठाकुर के माध्यम से मिली थी। हैरान करने वाली बात है कि गोद में नवजात शिशु को देखते हुए कई लोग यहां से गुजरे होंगे, लेकिन अजय ठाकुर ने इस मामले को उठाकर प्रशंसनीय कार्य किया है। टेकचंद ने अपनी पोस्ट में उमंग फाउंडेशन के अलावा रणवीर सिंह का भी आभार प्रकट किया है। कुल मिलाकर इंसानियत का जज्बा रखने वाली टीम की बदौलत एक मासूम को सहारा मिला ही, साथ ही उसकी मां को भी मददगार मिले हैं। बताया जा रहा है कि युवती ने 10 दिन पहले ही बच्ची को जन्म दिया था। डिलीवरी के बाद वह बस स्टैंड पर ही रहने लगी। प्राप्त जानकारी के मुताबिक महिला अपने बच्चे के साथ बैंक एटीएम के बाहर रह रही थी। रात के वक्त एटीएम में सो जाती थी। एसडीएम नीरज चांदला के मुताबिक महिला कहां की रहने वाली है, इसकी भी जानकारी जुटाई जा रही है। वहीं शिमला पुलिस भी जानकारी जुटाने लगी है कि यह महिला कहां से आई थी।

 

 

 

You might also like