मॉब लिंचिंग पर भागवत पर दिग्विजय-ओवैसी का अटैक

हैदराबाद – मॉब लिंचिंग पर आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के बयान पर एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी और कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने निशाना साधा है। हैदराबाद से सांसद ओवैसी ने कहा कि जिस विचारधारा ने गांधी और तबरेज की हत्या की, उससे ज्यादा भारत की बदनामी नहीं हो सकती। वहीं, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि जिस दिन भागवत एकजुटता के संदेश का पालन करने लगेंगे, उस दिन मॉब लिंचिंग और नफरत जैसी सारी समस्याएं समाप्त हो जाएंगी। ओवैसी ने संघ प्रमुख मोहन भागवत के इस बयान की आलोचना की कि मॉब लिंचिंग पश्चिमी तरीका है और देश को बदनाम करने के लिए इसका भारत के संदर्भ में इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। ओवैसी ने कहा कि भीड़ हत्या के पीडि़त भारतीय हैं और आरोप लगाया कि भागवत मॉब लिंचिंग रोकने के लिए नहीं कह रहे हैं। वह कह रहे हैं कि इसे लिंचिंग मत कहो। मॉब लिंचिंग के दोषियों को किसने माला पहनाई थी, किसने उन्हें तिरंगे में लपेटा था। हमारे पास गोडसे प्रेमी भाजपा सांसद हैं। गांधी और तबरेज अंसारी की हत्या जिस विचारधारा ने की उसकी तुलना में भारत की बड़ी बदनामी और कुछ नहीं हो सकती। उधर, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने मोहन भागवत के एकजुटता पर दिए बयान पर कटाक्ष करते हुए कहा कि जिस दिन वह इस संदेश का पालन करने लगेंगे। उस दिन देश की भीड़ हत्या और नफरत जैसी सारी समस्याएं समाप्त हो जाएंगी। भीड़ हत्या खत्म हो जाएगी और नफरत भी समाप्त हो जाएगी, शिकायतें भी नहीं रहेंगी।

You might also like