यू-डाइज प्लस पर शिक्षकों का रिकार्ड

इसी सप्ताह पोर्टल को केंद्र सरकार से जोड़ने की तैयारी कर रहा विभाग

शिमला – प्रदेश के सरकारी स्कूलों में तैनात 66912 शिक्षकों का डाटा ऑनलाइन हो गया है। यू डाइज प्लस पर एसएसए ने यह डाटा चढ़ा दिया है। खास बात यह है कि पहली से लेकर जमा दो तक के  सभी रेगुलर व नियमों के तहत भर्ती हुए शिक्षकों का ब्यौरा नाम और स्कूल के साथ ऑनलाइन वेबसाइट पर चढ़ा दिया गया है। एसएसए ने जिलों से वेरिफिकेशन होने के बाद यू डाइज प्लस पर इसे फाइनल किया है। सभी स्कूल प्रबंधन ने खुद पोर्टल पर शिक्षकों के रिकार्ड को अपडेट किया है। अहम यह है कि यू डाइज प्लस पर सरकारी स्कूलों में कितने शिक्षक सेवाएं दे रहे हैं, वहीं उक्त शिक्षक की भर्ती किस आधार पर की गई है, इसके साथ ही छात्रों को पढ़ाने वाले शिक्षक की शैक्षणिक योग्यता खुद कितनी है, यह सब यू डाइज पोर्टल पर ऑनलाइन चढ़ाया गया है। बताया जा रहा है कि यू डाइज प्लस पोर्टल पर शिक्षकों की परफार्मेंस को भी दर्शाया गया है। इसके साथ ही एक साल में कितने शिक्षकों ने शिक्षा की गुणवत्ता पर बेहतर  कार्य किया है, इस पर भी नजर रखी जाएगी। जानकारी के अनुसार यू-डाइज प्लस पोर्टल पर शिक्षकों के अलावा स्कूल में छात्रों से जुड़ी जानकारी भी होगी।  शिक्षा विभाग के अधिकारियों की मानें, तो अब शिक्षक एडजस्टमेंट भी आसानी से नहीं कर पाएंगे। इसका कारण यह है कि शिक्षकों के नाम के साथ हर जानकारी यू-डाइज प्लस पर होगी। फिलहाल एसएसए ने यू-डाइज पोर्टल को बंद कर दिया है। बताया जा रहा है कि एक व दो दिन में इसे केंद्र सरकार के साथ भी जोड़ दिया जाएगा। शिक्षकों का ऑनलाइन डाटा चढ़ने के बाद अब शिक्षा विभाग का दावा है कि इससे शिक्षकों का स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता पर फोकस बढ़ जाएगा। वहीं बंक मारने वाले शिक्षकों पर नजर रखना भी आसान हो जाएगा तथा डाटा ऑनलाइन होने के बाद सरप्लस शिक्षकों की पोल भी आसानी से खुल पाएगी।

होगी ऑनलाइन ट्रासंफर

खास यह है कि शिक्षकों की अब ऑनलाइन ही ट्रांसफर की जाएगी। एसएसए के निदेशक आशीष कोहली कहते हैं कि यू-डाइज पोर्टल पर शिक्षकों की ट्रांसफर से जुड़ी हर जानकारी भेजी जाएगी। ऐसे में अब शिक्षक एडजस्टमेंट भी आसानी से नहीं करवा पाएंगे।

You might also like