लुहणू में स्विमिंग पूल निर्माण को कवायद शुरू

बिलासपुर – कुछ समय से विवादित हुए लुहणू में प्रस्तावित स्विमिंग पूल की स्थापना को लेकर अब प्रशासन ने कवायद तेज कर कर दी है। शनिवार को एसडीएम सदर नरेंद्र आहलुवालिया और पर्यटन व खेल विभागों के अधिकारियों की एक टीम ने चयनित जमीन की ज्वाइंट इंस्पेक्शन की। उम्मीद है कि जल्द ही स्वीमिंग पूल निर्माण को लेकर प्रक्रिया शुरू की जाएगी। जानकारी के मुताबिक स्विमिंग पूल को बनाने के लिए खेल छात्रावास के समीप ही साइट सिलेक्ट की गई है। हालांकि यह साइट बीबीएमबी की है, लेकिन कुछ स्थानीय लोगों ने इसे अपना बताकर विवाद पैदा कर दिया था। ऐसे हालात में यह योजना पिछले लंबे समय से लटकी पड़ी है। हालांकि पर्यटन विभाग के पचास लाख रुपए का बजट भी उपलब्ध है, लेकिन जमीन संबंधी प्रक्रिया के सिरे न चढ़ने के कारण यह प्रोजेक्ट लंबित पड़ा है। इसे मूर्तरूप देने के लिए प्रशासन ने कवायद शुरू कर दी है। शनिवार को एसडीएम नरेंद्र आहलूवालिया की अगवाई में पर्यटन विभाग व युवा सेवाएं एवं खेल विभाग के अधिकारियों ने चयनित जमीन का निरीक्षण किया। चयनित जमीन को स्विमिंग पूल के लिए उपयुक्त पाया गया है। यहां पर 40 मीटर चौड़ा व 70 मीटर लंबा स्विमिंग पूल बनाया जाना प्रस्तावित है। यदि यह योजना सिरे चढ़ती है तो बिलासपुर के लोगों को स्विमिंग करने के लिए एक उपयुक्त स्थान मिल जाएगा। अब पर्यटन विभाग इस स्विमिंग पूल का एस्टीमेट तैयार करवाएगा तथा उसके बाद इसके टेंडर अवार्ड किए जाएंगे। यहां बता दें कि लुहणू मैदान के साथ लगती बीबीएमबी की जमीन को प्रशासन ने दो साल पहले स्विमिंग पूल के लिए चुना था। स्विमिंग पूल बनाने की प्रक्रिया भी शुरू की गई लेकिन कुछ लोगों ने जिला प्रशासन की इस पहल को यह कहकर रोक दिया था कि संबंधित जमीन पर उनका कब्जा है और भाखड़ा बांध निर्माण के दौरान हुए समझौते के तहत जब संबंधित जमीन पर पानी नहीं होगा तो उस जमीन पर संबंधित व्यक्ति फसल की बिजाई कर सकता है। जिस कारण जिला प्रशासन की यह योजना सिरे नहीं चढ़ पाई थी।

You might also like