हफ्ते का ख़ास दिन

जन्मदिन :  हेमा मालिनी

16 अक्तूबर

मशहूर अदाकारा हेमा मालिनी बालीवुड की प्रसिद्ध अभिनेत्री रही हैं। जो हर क्षेत्र में प्रसिद्ध रही हैं, चाहे वह एक्टर, डांसर, निर्माता, निर्देशक हो या एक राजनेता। तमिल फिल्म से अपने करियर की शुरुआत करने वाली हेमा मालिनी को ड्रीम गर्ल कहा जाता है। हेमा जी ने 150 से अधिक फिल्मों में कार्य किया, जिसमें उन्हें बहुत से अवार्ड मिले हैं। उनकी अदाकारी और उनकी खूबसूरती के चर्चे दूर- दूर तक हैं। हेमा मालिनी का जन्म 16 अक्तूबर 1948 में एक तमिल परिवार में हुआ है। उनकी माता एक फिल्म प्रोडूसर थीं। हेमा जी ने पढ़ाई की शुरुआत चेन्नई के आंध्र महिला सभा से की थी। कुछ समय बाद वह  मंदिर मार्ग में चली गई। हेमा जी ने 12 वीं की पढ़ाई बीच में छोड़ दी और फिल्मों में ध्यान देने लगी। हेमा जी को पहली  तमिल फिल्म 1963 में इथू साथिय्म मिली, जिसमें वह सहकलाकार के रूप में दिखाई दीं। इसके बाद 1968 में राजकपूर निर्देशित फिल्म में उन्हें ऋषि कपूर के अपोजिट ‘सपनों के सौदागर’ में कास्ट किया गया। फिल्म तो फ्लॉप हुई, लेकिन इस फिल्म के द्वारा हेमा जी को सभी जानने लगे और उन्हें ड्रीम गर्ल का खिताब मिल गया। उस समय उनकी खूबसूरती के सभी कायल हुआ करते थे। इसके बाद 1970 में उन्हें देवानंद के साथ ‘जोनी मेरा नाम’ में काम मिला, यह फिल्म सुपर हिट हुई। इस फिल्म के बाद हेमा जी के पास फिल्मों की लाइन लग गई। 1971 में महान निर्देशक रमेश सिप्पी जी बॉलीवुड में आए उन्होंने अपनी पहली फिल्म ‘अंदाज’ के लिए हेमा जी को कास्ट किया। फिल्म में हेमा जी ने राजेश खन्ना के साथ काम किया, जिसमें वह एक विधवा प्रेमिका बनती है। इस फिल्म में उनकी अदाकारी निखर कर आई, जिसे सब आज भी याद करते हैं। इसके बाद उन्होंने 1971 में ही ‘लाल पत्थर’ फिल्म की। 1972 में रमेश सिप्पी ने ‘सीता और गीता’ क ा निर्माण किया। यह फिल्म तो हेमा जी को सफलता की बुलंदी पर ले गई। सीता और गीता में उनके डबल रोल को खूब सराहना मिली, साथ ही बहुत से अवार्ड मिले। इसके बाद से हेमा व धर्मेंद्र जी की जोड़ी को बहुत पसंद किया जाने लगा। 1975 में रमेश सिप्पी ने ‘शोले’ का निर्माण किया, जिसमें हेमा मालिनी को चुलबुली बसंती का किरदार मिला। इस किरदार का असर तो लोगों के सिर ऐसा चढ़ा कि आज भी हेमा जी को कुछ लोग बसंती कहते हैं। हेमा जी 70-80 के दशक की सबसे फेमस अदाकारा रही उनकी बहुत सी फिल्में सुपर हिट रहीं। उनकी जोड़ी, धर्मेंद्र व राजेश खन्ना के साथ बहुत पसंद की गई। हेमा जी आज फिल्मों में सक्रिय नहीं हैं, लेकिन उनकी अदाकारी को आज भी लोग भुला नहीं पाए हैं। हेमा मालिनी जी की धर्मेंद्र के साथ प्रेम कहानी जग जाहिर है। इस जोड़ी को जितना लोग रील लाइफ  में पसंद कर रहे थे, उतना ही ये रियल लाइफ में एक- दूसरे के करीब आते जा रहे थे। हेमा धर्मेंद्र की प्रेम कहानी 1975 में शोले से शुरू हुई थी। पहले से शादीशुदा धर्मेंद्र हेमा जी की खूबसूरती के कायल हो गए। शोले के सेट पर इनकी प्रेम कहानी परवान चढ़ने लगी।  हेमा जी के लिए अपनी उम्र से 13 साल बड़े धर्मेंद्र के साथ शादी करना आसान नहीं था, उन्हें उनके ससुराल वालों ने भी नहीं अपनाया था।

You might also like