1400 रुपए एंट्री फीस वसूलने पर अड़ा पाक

करतारपुर कॉरिडोर के लिए शुरू नहीं हो सकी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

नई दिल्ली –करतारपुर साहिब गुरुद्वारे के लिए भले ही पाकिस्तान नौ नवंबर से कॉरिडोर खोलने की बात कर रहा है, लेकिन उससे पहले अब उसने रजिस्ट्रेशन फीस का अड़ंगा लगा दिया है। गुरुद्वारा दरबार साहिब करतारपुर के लिए रविवार को ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की शुरुआत होनी थी, लेकिन पाकिस्तान अब भी यात्रियों से 20 डालर फीस वसूलने पर अड़ा हुआ है। इस पर भारत ने ऐतराज जताया है। अधिकारियों का कहना है कि पाकिस्तान हर एक तीर्थयात्री से 20 डालर यानी करीब 1400 रुपए की फीस वसूलना चाहता है। उम्मीद की जा रही थी कि भारत और पाकिस्तान के बीच करतारपुर कॉरिडोर को लेकर सभी मुद्दों पर शनिवार को सहमति बना ली जाएगी, लेकिन ऐसा नहीं हो सका। मामले की जानकारी रखने वाले एक अधिकारी ने बताया, अभी कई मसलों पर सहमति नहीं बन सकी है, इसलिए रविवार से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की शुरुआत नहीं हो पाई है। पाकिस्तान के साथ जिन मुद्दों पर अब तक सहमति नहीं बन सकी है, उनमें करतारपुर साहिब के दर्शन की टाइमिंग और फीस शामिल हैं। भारत ने पाकिस्तान से प्रति यात्री 20 डालर की फीस वसूले जाने को लेकर एक बार फिर से विचार करने को कहा है। इसके अलावा हर दिन 10000 यात्रियों को दर्शन की अनुमति देने की मांग की है। यही नहीं, भारत ने हर दिन भारतीय प्रोटोकॉल ऑफिसर के भी दौरे की अनुमति मांगी है।

मनमोहन सिंह का करेंगे स्वागत

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि पूर्व भारतीय प्रधानमंत्री डा. मनमोहन सिंह नौ नवंबर को करतारपुर गलियारे के उद्घाटन समारोह में एक आम आदमी की तरह शामिल होंगे। कुरैशी ने अपने गृहनगर मुल्तान में पत्रकारों से कहा कि डा. सिंह ने उनका न्योता स्वीकार कर लिया है और तय उद्घाटन समारोह में विशेष अतिथि के बजाय आम आदमी की तरह शामिल होंगे। हम उनके आने का स्वागत करते हैं।

You might also like